मर्यादा पुरुषोत्तम श्री राम के जीवन आदर्शों को अंगीकार करने का संदेश देती है रामलीला : हरीश रावत

मुख्यमंत्री हरीश रावत ने मंगलवार को गदरपुर शिव मंदिर रामलीला कमेटी के स्वर्ण जयंती वर्ष पर स्मारिका विमोचन एवं रामलीला का उद्घाटन समारोह को सम्बोधित करते हुए कहा कि रामलीला भगवान पुरुषोत्तम श्री राम के जीवन आदर्शों को अंगीकार करते हुए सबको मिलजुलकर आपसी सौहार्द बनाकर रहने का संदेश देती है.

harish-rawat

कार्यक्रम का शुभारम्भ मुख्यमंत्री ने दीप प्रज्जवलित कर किया. हरीश रावत ने कहा कि भगवान राम ने सर्व समाज की व्यवस्था को अंगीकार कर रीछ-वानरों से मेलजोल बनाकर हमें तरक्की व देश की एकता को बनाए रखने का सन्देश दिया है.

उन्होंने कहा इतिहास गवाह है कि चन्द्रगुप्त मौर्य, बादशाह अकबर व अशोक महान सम्राट तभी कहलाए, क्योकि उन्होंने सर्व समाज के लोगों को एकता के सूत्र में पिरोया. हरदा ने कहा कि पूरी तराई समेत गदरपुर कौमी एकता का हृदय है, इसलिये हमें किसी भी सूरत में देश की एकता-अखण्डता को बनाए रखना है.

gadarpur-ramleela-harish-rawat

उन्होंने कहा, देश को सीमा पार से जो चुनौतियां हमें मिल रही है हमें किसी भी सूरत में देश की एकता व अखण्डता को अक्षुण्य बनाए रखना होगा.