नैनीताल: विश्व पर्यटन दिवस पर पैदल ट्रैकिंग रैली का आयोजन । स्कूली बच्चों ने जम का उठाया लुत्फ़

विश्व पर्यटन दिवस के अवसर पर नैनीताल में पर्यटन विभाग व कुमांऊ मंडल विकास निगम द्वारा पैदल ट्रैकिंग रैली का आयोजन किया गया। रैली का शुभारम्भ विधायिका/ संसदीय सचिव सरिता आर्या व जिलाधिकारी दीपक रावत ने संयुक्त रूप से किया। रैली में नगर के विभिन्न विद्यालयों के छात्र-छात्राओं ने भी प्रतिभाग किया गया।

लगभग नौ किमी की ट्रैकिंग रैली मल्लीताल फ्लैट्स से प्रारंभ होकर बारापत्थर, लैण्डस्एण्ड, टिफिनटाॅप होते हुए शेरवुड बैण्ड, गर्नी हाउस, के रास्ते मल्लीताल फ्लैट्स में समाप्त हुई। ट्रैकिंग रैली को संबोधित करते हुए विधायक/संसदीय सचिव सरिता आर्या ने कहा कि ऐसे आयोजनों व ट्रेकिंग जैसे प्रयासों से पर्यटन के नये अवसर पर्यटकों को मिलेंगे। साथ ही आर्थिकी में भी बढ़ोतरी होगी, जो कि हमारे राज्य के लिये बेहद महत्वपूर्ण सिद्ध होगा।

जिलाधिकारी ने कहा कि पर्यटन इस राज्य व नगर का मूल आधार है। उन्होने कहा कि ऐंसे आयोजनों से पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा। उन्होने कहा कि कुमांऊ में कई ऐसे क्षेत्र हैं जहां पर पर्यटक कभी नही जा पाये यदि ट्रैकिंग को बढ़ावा दिया जाये तो हमारे ग्रामीण पर्यटन को बढावा मिलेगा साथ ही ईको टूरिज्म भी बढेगा। उन्होने कहा कि जनपद में नऐ पैदल ट्रैकिंग सर्किट बनाये जायेेंगे जिससे ग्रामीणों को भी आर्थिक लाभ मिलेगा। उन्होने विश्व पर्यटन दिवस पर सभी को बधाई दी।

इस अवसर पर केएमवीएन के महाप्रबंधक टीएस मर्तोलिया ने कहा कि पर्यटन की दृष्टि से उत्तराखंड सबसे महत्वपूर्ण राज्य है। यहां की आबो हवा पर्यटन के लिये बेहद ही अनूकूल है। जिससे कि यहां के वातावरण में रहकर आसानी से ट्रैकिंग को बढ़ावा दिया जा सकता है। होटेल मन्नू महारानी के प्रबंधक पवन कुमार ने कहा कि पर्यटन की शुरूवात 1980 में यूनाईटेड नेशन वल्र्ड टूरिज्म आर्गनाइजेशन ने की थी। तब से प्रतिवर्ष इस दिन को पर्यटन दिवस के रूप में मनाया जाता है। उन्होने कहा कि कुमांऊ में बहुत सारे स्थान हैं जहां पर ट्रेकिंग की जा सकती है। परन्तु आज भी पर्यटक व स्थानीय लोग इन स्थानों से अनभिग्य हैं। सरकार को इस तरफ विशेष ध्यान देना चाहिये।

इस मौके पर अपर जिलाधिकारी आर डी पालीवाल, एसडीएम वंदना सिंह, इओ रोहिताश शर्मा, उपनिदेशक पर्यटन जेसी बेरी, क्षेत्रीय प्रबंधक डीके शर्मा, मुन्नी तिवारी, योेगेश साह, प्रवीण शर्मा, त्रिभुवन फत्र्याल, राजेश साह, गीता साह, तुशि अनित साह, गिरिजा पांडे, भुवन त्रिपाठी, अनुप साह, डीएन भट्ट, गौरव सेठी, नीरज जोशी, शैलू साह, एसके गर्ग, मो. उस्मान, पयंक पाण्डे, रूडि सिंह, नरेश गुप्ता अवतार सिहं, एमएस अधिकारी, रीता राव, राहुल जेठी, प्रदीप जेठी, विरेन्द्र कुमार व जीजीआई ओकवुड, एलपीएस, जीआईसी, शहीद सैनिक स्कूल, एसडेल, सीआरएसटी, मोहन लाल साह बाल विद्या मंदिर व डीएसबी कैंपस के छात्र-छात्राओं सहित ट्रैकिग में लगभग 350 प्रतिभागियों ने प्रतिभाग किया। इस अवसर पर स्वीप के अतर्गत स्लोगनों व बैनरों के साथ स्कूली बच्चों द्वारा रैली भी निकाली गई।