हरिद्वार : 7 महीने की बच्ची को पार्किंग में छोड़ गए मां-बाप, मसीहा बनकर आया रिक्शाचालक

चार दिन पहले बच्ची को टोकरी में छोड़ने की घटना के बाद हरिद्वार में एक और कलयुगी मां-बाप की करतूत सामने आई है. मां-बाप ने सात महीने की बच्ची को पार्किंग में छोड़ दिया. लेकिन, कुछ देर बाद एक रिक्शाचालक उसके लिए मसीहा बनकर वहां पहुंचा.

खबर के अनुसार, धार्मिक नगरी हरिद्वार में दिल्ली-हरिद्वार राष्ट्रीय राजमार्ग पर पंडित दीन दयाल उपाध्याय पार्किंग है. इसी पार्किंग में सन्नी कुमार रिक्शे में रात गुजारता था. सुबह चार बजे बच्चे की जोर-जोर से रोने की आवाज सन्नी को सुनाई दी. वह जाग गया. उसने देखा कि पार्किंग में ही बच्ची लावारिस अवस्था में पड़ी है. उसके आसपास कोई नहीं है. बच्ची रो रही है.

सन्नी ने आसपास मां-बाप को खोजने की कोशिश की, लेकिन कोई नहीं दिखा. करीब एक घंटे तक बच्ची को अपने पास रखने के बाद कोई नहीं आया. इस पर उसने सूचना रोड़ी बेलवाला पुलिस चौकी दी.

इसके बाद रिक्शाचालक सन्नी बच्ची को लेकर सीधे शहर कोतवाली पहुंच गया. यहां सन्नी ने बच्चे को पुलिस के सुपुर्द कर दिया. पुलिसकर्मियों ने रिक्शाचालक का आभार जताया. एसएसआइ गिरीशचंद शर्मा ने बताया कि बच्ची को बाल कल्याण समिति के सुपुर्द किया जाएगा. इसके लिए समिति के पदाधिकारियों से संपर्क किया गया है. बच्ची करीब सात महीने की बताई जा रही है.