दिल्ली में उत्तराखंड के सेब-रेशम-चाय उत्पादों की प्रदर्शनी, अगले महीने मुंबई में…

उत्तराखंड सरकार ने राज्य के विभिन्न जिलों में होने वाले उत्पादों के प्रचार प्रसार एवं विपणन को बढ़ावा देते हुए राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में सेब, रेशम, जड़ी बूटी एवं चाय की दो दिवसीय प्रदर्शनी का आयोजन किया है.

राज्य के उद्यान मंत्री प्रीतम सिंह पंवार ने शनिवार को दिल्ली के उत्तराखंड सदन में ‘उत्तराखंड सेब महोत्सव-2016’ का उद्घाटन किया. इस महोत्सव का आयोजन दूसरी बार किया गया है. उन्होंने कहा कि राज्य के उत्तरकाशी, चमोली, पिथौरागढ़, देहरादून, नैनीताल जिलों में कुल 34,685 हेक्टेयर क्षेत्रफल में सेब की खेती की जा रही है. राज्य में कुल 1.06 लाख टन फलों का उत्पादन हो रहा है.

उन्होंने कहा कि उत्तराखंड के किसानों की आय बढ़ाने और राज्य के फलों की ब्रांडिंग के प्रचार-प्रसार के लिए राज्य से बाहर भी ‘उत्तराखंड सेब महोत्सव’ का आयोजन किया जा रहा है. 15-16 अक्टूबर को नवी मुंबई में यह प्रदर्शनी लगाई जाएगी.

उत्तराखंड औद्यानिक विपणन परिषद के बैनर तले आयोजित इस प्रदर्शनी में हर्षिल, उत्तरकाशी और त्यूनी, देहरादून के सेबों को प्रदर्शनी में रखा गया है. जिला बागवानी अधिकारी नरेन्द्र यादव ने बताया कि पांच किलो और 10 किलो की पेटी में इन सेबों की बिक्री भी की जा रही है. रॉयल डिलिसियस, रेड डिलिसियस, गोल्डन और स्वीट ग्रीन सेब सितंबर में बाजार में आते हैं और देश के विभिन्न भागों में इनकी मांग बढ़ रही है.