बुगती को शरण देने को लेकर पाकिस्तानी रक्षामंत्री ने भारत को दी चेतावनी

इस्लामाबाद।… पाकिस्तान ने शुक्रवार को भारत को चेतावनी दी कि बलूच नेता ब्रह्मदाग बुगती को शरण देकर वह आतंकवाद का आधिकारिक प्रायोजक बन जाएगा. पाकिस्तान के रक्षा मंत्री ख्वाजा आसिफ ने ट्वीट किया, ‘भारत द्वारा बुगती को शरण देना किसी देश द्वारा आतंकवादी को आसरा देने के समान होगा. इस तरह वह (भारत) आतंकवाद का आधिकारिक प्रायोजक बन रहा है.’

आसिफ के बयान से पहले यह बात सामने आई थी कि भारत में राजनीतिक शरण मांगने की बुगती की अर्जी गुरुवार को गृह मंत्रालय को मिली, जो इसका अध्ययन कर रहा है. स्विट्जरलैंड में रह रहे बुगती ने मंगलवार को जिनेवा में भारतीय दूतावास से संपर्क किया था और भारत में शरण मांगी थी. उन्होंने नई दिल्ली से सकारात्मक जवाब का विश्वास जताया था.

बुगती बलूच रिपब्लिकन पार्टी के अध्यक्ष और संस्थापक हैं. रविवार को जिनेवा में पार्टी की एक बैठक में शरण मांगने का निर्णय लिया गया. वह बलूच के राष्ट्रवादी नेता नवाब अकबर बुगती के पौत्र हैं, जिनकी 2006 में पाकिस्तानी सेना ने हत्या कर दी थी. पाकिस्तान सरकार ने बुगती के 2010 में अफगानिस्तान के रास्ते पाकिस्तान से जिनेवा चले जाने में मदद के लिए भारत को जिम्मेदार ठहराया था.