उत्तराखंड के सपूत की कश्मीर में संदिग्ध परिस्थितियों में मौत, उत्तरकाशी में आज अंतिम संस्कार

जम्मू-कश्मीर में तैनात उत्तराखंड के सपूत अतर सिंह की संदिग्ध परिस्थितियों में गोली लगने से मौत हो गई. एसएसबी की पांचवीं बटालियन में एएसआई के पद पर तैनात 48 वर्षीय अतर सिंह उत्तरकाशी से 30 किमी दूर डुंडा ब्लॉक के ढुंगाल गांव निवासी कल्याण सिंह संतरी के पुत्र थे.

वे एसएसबी की पांचवीं बटालियन में चंपावत में तैनात थे. एक महीने पहले ही चंपावत से उनकी कंपनी को जम्मू-कश्मीर भेजा गया था. अतर सिंह की ड्यूटी जिला पुलिस लाइन में थी.

बुधवार शाम करीब सात बजे उसके कमरे से जोर की आवाज आने पर अन्य जवान वहां पहुंचे तो देखा कि अतर सिंह अपनी सर्विस राइफल के साथ खून से लथपथ पड़ा हुआ था और गोली उसकी ठुड्डी पर लगकर सिर के पार हो चुकी थी.

सूचना पर पहुंची जम्मू पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर मौके से जांच के जरूरी नमूने उठाए और शव को पोस्टमार्टम के लिए जीएमसी शवगृह में रखवाया.

जांच में अब तक मामला खुदकुशी का सामने आ रहा है. जबकि अतर सिंह के भतीजे विजय संतरी ने बताया कि एसएसबी के डिप्टी कमांडेंट ने फोन पर उन्हें शहादत की सूचना दी है. अतर सिंह का पार्थिव शरीर शुक्रवार को गांव ढुंगाल पहुंचेगा. जहां देवीधार घाट पर अंतिम संस्कार किया जाएगा.