Exclusive: ‘सरकार’ इनकी भी सुनो | कहीं सड़क 10 किमी दूर है तो कहीं 20 साल से सर्वे ही चल रहा है

‘मेरा गांव मेरी सड़क’ योजना से जुड़ी पिछले साल 21 अगस्त 2015 को www.uttaranchaltoday.com पर छपी खबर पर हाल के दिनों में कई पाठकों ने कमेंट बॉक्स में अपने इलाके की दास्तां बतायी है. एक जिम्मेदार मीडिया हाउस होने के नाते UT मीडिया वेंचर्स ने उनमें से कुछ पाठकों की समस्याओं को जिम्मेदार अधिकारियों के समक्ष रखने की कोशिश की है. उम्मीद करते हैं कि अधिकारी और सरकार इस ओर ध्यान देंगे…

सबसे पहले देवेंद्र सिंह की समस्या – देवेंद्र ने लिखा, ‘मेरा नाम देवेंद्र रावत है और मैं अल्मोड़ा जिले का रहने वाला हूं. मेरा गांव अल्मोड़ा के मौलेखाल ब्लॉक के सल्ट क्षेत्र में आता है. लेकिन हमारे गांव में आज भी लोगों को 5 से 10 किमी पैदल चलना पड़ता है सड़क पर आने के लिए. जिससे हमारे बूढ़े लोगों को और हमें कासी परेशानी उठानी पड़ती है. मेरा माननीय मोदी जी से निवेदन है, हम इस सड़क के लिए कई सालों से सरकार से निवेदन कर रहे हैं कि इस सड़क का निर्माण किया जाए. लेकिन सरकार इस पर कोई कार्रवाई नहीं कर रही है.’

‘हमारी जो सड़क योजना है वह है मर्चुला से भिकियासैण. हमारी मांग है इतनी है कि मर्चुला से भिकियासैण तक पूरी 40 किमी सड़क का निर्णाण हो. लेकिन उत्तराखंड सरकार कहती है कि केंद्र से पैसा नहीं आ रहा इस सड़क के लिए. इसलिए माननीय मोदी जी… निवेदन है कि हमारी इस समस्या का जल्द से जल्द समाधान कर दीजिए. आपकी अति कृपा होगी. हमारी सड़क मात्र 40 किमी की है.’
विधायक – सुरेंद्र सिंह जीना (बीजेपी), पूर्व विधायक – रणजीत सिंह रावत (कांग्रेस)
सांसद – अजय टम्टा (बीजेपी), पूर्व सांसद – प्रदीप टम्टा (कांग्रेस)

दुनार गांव, जिला अल्मोड़ा निवासी रविंद्र टम्टा ने भी अपनी समस्या हमसे साझा की. वे लिखते हैं, ‘मेरे गांव की दयनीय दशा में लोग जी रहे हैं. मार्केट, अस्पताल, स्कूल आदि जाने के लिए बहुत चढ़ाई चढ़नी पड़ती है. बीमार समय पर अस्पताल न पहुंच पाने के कारण मर जाता है. कोई भी काम नहीं हो पाता. सड़की की बहुत जरूरत है. आप हमारी परेशानी की तरफ भी ध्यान दें.’ रविंद्र ने समस्या के साथ अपना फोन नंबर भी दिया है.. 9756977723.
विधायक – गोविंद सिंह कुंजवाल (कांग्रेस), पूर्व विधायक – गोविंद सिंह कुंजवाल (कांग्रेस)
सांसद – अजय टम्टा (बीजेपी), पूर्व सांसद – प्रदीप टम्टा (कांग्रेस)

पुलटांडा गांव, पोस्ट- नैनीडांडा, जिला पौड़ी के सतेंद्र सिंह ने अपनी समस्या बताई. उन्होंने लिखा, ‘मेरा गांव लैंसडौन विधानसभा क्षेत्र में आता है. अभी तक सड़क की कोई बात नहीं हुई है. क्या और कैसे होगा. कृपया सुझाव दें, हमारा अगला कदम क्या हो?’ सतेंद्र ने भी अपना फोन नंबर दिया है… 7351009575.
विधायक – दलीप सिंह रावत (बीजेपी), पूर्व विधायक – हरक सिंह रावत (कांग्रेस)
सांसद – भूवन चंद्र खंडूरी (बीजेपी), पूर्व सांसद – सतपाल महाराज (कांग्रेस)

भांटी गांव, द्वाराहाट विधानसभा क्षेत्र, अल्मोड़ा के नारायण दत्त ने भी अपनी समस्या उत्तरांचल टुडे के साथ साझ की. उन्होंने लिखा, ‘मेरे गांव का नाम भांटी है और हमारे विधायक मदन सिंह बिष्ट जी हैं. विधायक जी ने फरवरी 2016 में हमारे गांव की लिंक रोड का सर्वे करवाया था. लेकिन आज तक उस पर काम शुरू नहीं हुआ है. सड़क का काम कब तक शुरू होगा?’
विधायक – मदन सिंह बिष्ट (कांग्रेस), पूर्व विधायक – पुष्पेश त्रिपाठी (यूकेडी)
सांसद – अजय टम्टा (बीजेपी), पूर्व सांसद – प्रदीप टम्टा (कांग्रेस)

ग्राम खुरेड़ी, तहसील भिकियासैंण, जिला अल्मोड़ा निवाशी हरीश राम ने भी अपनी समस्या बतायी. उन्होंने लिखा, ‘मेरे गांव में करीब 20 सालों से सड़क का सर्वे लगातार हर साल होता है. लेकिन सड़क अभी तक नहीं बनी है. सड़क की योजना का अब भी पता नहीं है. मेरे गांव में अब भी सड़क की व्यवस्था नहीं है, जिससे गांव के बुजुर्गों को बड़ी कठिनाई का सामना करना पड़ता है. मेरी केंद्र सरकार से विनती है कि मेरे गांव के लिए सड़क की व्यवस्था करें. जिस जगह से सड़क सर्वे हुआ है और सड़क निर्माण में आने वाले पेड़ भी वन विभाग वालों ने काटे हैं. आग लगने कि वजह से वे भी जल गए हैं. सड़क विभाग वालों से सड़क निर्माण के बारे में पूछो तो वे कहते हैं कि केंद्र से बजट नहीं आया है. यह सड़क पास है सिर्फ बजट आने की देरी है. मेरा केंद्र सरकार से निवेदन है कि जल्द से जल्द इस विषय पर विचार करें. मेरी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी से विनती है कि इस विषय पर विचार करें और हमें इस परेशानी से मुक्ति दें.’
विधायक – अजय भट्ट (बीजेपी), पूर्व विधायक – सुरेंद्र सिंह जीना (बीजेपी)
सांसद – अजय टम्टा (बीजेपी), पूर्व सांसद – प्रदीप टम्टा (कांग्रेस)

गापानी गांव, कप्कोट, बागेश्वर निवासी खुशाल गीरी लिखते हैं, ‘बागेश्वेर के कप्कोट सेत्र का गापानी गांव सड़क से 8 किलोमीटर दूर है. आज भी सड़क की कोई व्यवस्था नहीं है. यहां के जनप्रतिनिधि यहां सिर्फ चुनाव के समय ही दिखाई देते हैं, सड़की की सुविधा नहीं होने की वजह से गांव के लोग पलायन करने को मजबूर हैं.’
विधायक – चंदन राम दास (बीजेपी), पूर्व विधायक – चंदन राम दास (बीजेपी)
सांसद – अजय टम्टा (बीजेपी), पूर्व सांसद – प्रदीप टम्टा (कांग्रेस)

मुख्यमंत्री – हरीश रावत
ऑफिस फोन : 0135 – 2650433, 0135 – 2656177
ऑफिस फैक्स : 0135 – 2712827
Facebook एड्रेस – https://www.facebook.com/Harishrawatcmuk/?fref=ts
ट्विटर एड्रेस – https://twitter.com/harishrawatcmuk
…………………………………………………

प्रधानमंत्री – नरेंद्र मोदी
ऑफिस का पता – 152, साउथ ब्लॉक, रायसीना हिल, नई दिल्ली – 110011
फोन नंबर 011-23012312, फैक्स 011-23016857
आवास का पता – 7, रेस कोर्स रोड, नई दिल्ली – 110001
फोन 011-23011156, 23016060 फैक्स 011-23016587
Facebook एड्रेस – https://www.facebook.com/narendramodi/?fref=ts
ट्विटर एड्रेस – https://twitter.com/narendramodi