पाकिस्तान एक आतंकी देश, उसे अलग-थलग किया जाना चाहिए : गृहमंत्री राजनाथ सिंह

केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ-फाइल फोटो

बता दें कि गृहमंत्री ने जम्मू कश्मीर में अशांति के चलते रूस और अमेरिका का अपना प्रस्तावित दौरा स्थगित कर दिया है. गृहमंत्री को रविवार रात चार दिवसीय रूस यात्रा पर रवाना होना था. इसके बाद भारत-अमेरिका आंतरिक सुरक्षा वार्ता के लिए 26 सितंबर से छह दिन के लिए अमेरिका जाने का कार्यक्रम था.

राजनाथ सिंह ने जम्मू कश्मीर के राज्यपाल और मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती से उरी आतंकी हमले से पैदा हुई स्थितियों पर बातचीत भी की. सिंह ने यहां एक बयान में कहा, ‘जम्मू कश्मीर की स्थिति को ध्यान में रखते हुए और उरी में हुए आतंकी हमले के मद्देनजर मैंने अपना रूस और अमेरिका जाने का कार्यक्रम स्थगित कर दिया है.’

गृह मंत्री ने बताया उन्होंने जम्मू कश्मीर के राज्यपाल एन एन वोहरा और मुख्यमंत्री से उरी में सेना ब्रिगेड मुख्यालय में हुये हमले से उत्पन्न स्थितियों पर बातचीत की है. दोनों लोगों ने जम्मू कश्मीर की ताजा स्थितियों पर सारी जानकारी दी है.

उन्होंने कहा, ‘मैंने गृह सचिव राजीव महर्षि और मंत्रालय के अन्य अधिकारियों को जम्मू कश्मीर की स्थिति पर करीब से नजर रखने के निर्देश दिए हैं.’ गृहमंत्री ने उरी के ब्रिगेड मुख्यालय में हमले के बाद उत्पन्न स्थिति का जायजा लेने के लिए एक आपात बैठक भी बुलाई है. इस बैठक में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल, केन्द्रीय गृह सचिव, सेना, अर्धसैनिक और गृह मंत्रालय के शीर्ष अधिकारी शामिल हो रहे हैं.

आठ जुलाई को सुरक्षाबलों द्वारा एक मुठभेड़ में हिजबुल मुजाहिदीन के खूंखार आतंकवादी बुरहान वानी को ढेर किए जाने के बाद से पिछले करीब दो माह से कश्मीर घाटी में अशांति बनी हुई है. इस दौरान सुरक्षाबलों और नागरिकों के बीच हुए संघर्ष में अब तक करीब 80 लोगों की मौत हो चुकी है.

उल्लेखनीय है कि कश्मीर घाटी में जारी हिंसा के कारण राजनाथ सिंह ने दूसरी बार अपना अमेरिका दौरा रद्द किया है. इससे पहले वह 17 जुलाई को एक सप्ताह के लिए अमेरिका जाने वाले थे, लेकिन वानी के मारे जाने के बाद कश्मीर में हिंसा शुरू होने के कारण इसे अचानक रद्द कर दिया गया था.