उरी आतंकी हमले के बाद भारत के तीखे बयान । राहील शरीफ ने की पाक सेना की तैयारियों की समीक्षा

इस्लामाबाद।… पाकिस्तान सेना प्रमुख जनरल राहील शरीफ ने सोमवार को अपने शीर्ष कमांडरों से मुलाकात की और कहा कि कश्मीर में 18 भारतीय सैनिकों के मारे जाने के बाद भारत के ‘शत्रुतापूर्ण बयान’ के मद्देनजर पाक सेना देश की सुरक्षा जरूरतों के प्रति सतर्क है.

पाक सेना ने एक बयान में बताया कि ‘कोर कमांडर्स कांफ्रेंस’ रावलपिंडी में हुई और इसकी अध्यक्षता जनरल शरीफ ने की. इसमें बाहरी और आंतरिक सुरक्षा हालात तथा सेना की संचालनात्मक (ऑपरेशनल) तैयारियों की समीक्षा की गई.

भारत द्वारा ‘शत्रुतापूर्ण बयान’ जारी करने पर गौर करते हुए जनरल शरीफ ने कहा, ‘हम पूरी तरह से अवगत हैं और क्षेत्र में हुई हालिया घटनाओं और पाकिस्तान की सुरक्षा पर उनके प्रभाव को करीब से देख रहे हैं.’

उन्होंने सेना की संचालनात्मक तैयारियों पर संतोष जाहिर करते हुए कहा, ‘पाकिस्तान के सशस्त्र बल प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष खतरों के समूचे परिदृश्य में जवाब देने को पूरी तरह से तैयार है.’

जनरल शरीफ ने बैठक के दौरान कहा पाकिस्तान के सशस्त्र बल ने हमारे जीवंत राष्ट्र की सभी चुनौतियों पर जीत हासिल की है और भविष्य में भी पाकिस्तान की अखंडता एवं संप्रभुता के खिलाफ किसी मंसूबे को नाकाम किया जाएगा.

गौरतलब है भारी मात्रा में हथियारों से लैस आतंकवादियों ने उत्तर कश्मीर के उरी में रविवार तड़के सेना के एक बटालियन मुख्यालय पर हमला किया था, जिसमें 18 जवान शहीद हुए थे और 19 अन्य घायल हुए थे. साथ ही, चार आतंकवादी मारे गए.

भारत के डीजीएमओ लेफ्टिनेंट जनरल रणवीर सिंह ने कहा है कि मारे गए सभी चार आतंकवादी विदेशी आतंकी हैं और वे अपने साथ जो सामान लेकर आए थे उन पर पाकिस्तानी निशान हैं. शुरुआती रिपोर्टों से भी संकेत मिला है कि वे लोग पाकिस्तान आधारित जैश-ए-मोहम्मद आतंकी संगठन से जुड़े हुए थे.