राहत की खबर : उत्तराखंड में डेंगू के मामलों में आयी भारी कमी

अस्थायी राजधानी देहरादून में डेंगू के प्रकोप से निपटने के लिए प्रभावी कार्ययोजना पर अमल किए जाने के बाद इस बीमारी से पीड़ित होने वाले मरीजों की संख्या में भारी गिरावट आयी है. डेंगू के कुल चिन्हित 834 मामलों में से 781 मरीज अब स्वस्थ हो चुके हैं.

प्रमुख सचिव (स्वास्थ्य) ओमप्रकाश ने सोमवार को देहरादून में बताया कि डेंगू से सर्वाधिक प्रभावित देहरादून शहर में स्वास्थ्य विभाग के स्तर से प्रतिदिन लगभग 211 आशा कार्यकर्ताओं द्वारा घर-घर जाकर भवनों को सैनिटाइज किया जा रहा है. उन्होंने बताया कि अब तक लगभग 55 हजार भवनों को सैनिटाइज किया जा चुका है.

ओम प्रकाश ने बताया कि इस काम में सफाई कर्मचारियों और स्वयंसेवकों की भी सहायता ली जा रही है. उन्होंने कहा कि देहरादून में छह बडी फागिंग मशीनों से दवाओं का छिडकाव किया जा रहा है.

अधिकारी ने कहा कि मुख्यमंत्री हरीश रावत के निर्देश पर बनाई गई प्रभावी कार्ययोजना को अमल में लाने से डेंगू के प्रकोप में काफी कमी आई है और कुछ दिन पहले तक प्रतिदिन चिन्हित हो रहे डेंगू के 20-22 मामलों के सापेक्ष अब वर्तमान में इस बीमारी से पीडित केवल आठ-नौ मरीज ही सामने आ रहे हैं.

उन्होंने बताया कि डेंगू के सामने आए 834 मामलों में से 781 लोग स्वस्थ हो चुके हैं. फिलहाल सरकारी दून चिकित्सालय में डेंगू के 23 मरीज भर्ती हैं और 10 बिस्तर खाली हैं. उन्होंने कहा कि इसके अलावा जरूरत पड़ने पर 15 अतिरिक्त बिस्तरों की व्यवस्था भी की गई है.