कोटद्वार : उरी आतंकी हमले के एक दिन बाद आज पूर्व सैनिकों का प्रदर्शन, नवाज शरीफ का पुतला फूंका

जम्मू-कश्मीर के उरी सैन्य मुख्यालय पर रविवार को हुए आत्मघाती आतंकी हमले में शहीद हुए 17 जवानों की शाहदत के बाद पूरे देश में आंतकियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के सुर तेज होने लगे हैं.

सोमवार को कोटद्वार में पूर्व सैनिक सेवा परिषद के बैनर तले पूर्व सैनिकों ने हाथों में तिरंगा लेकर पहले तो झंड़ा चौक पर प्रदर्शन किया और उसके बाद पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ का पुतला फूंककर अपना आक्रोश व्यक्त किया.

पूर्व सैनिक सेवा परिषद के अध्यक्ष गोपाल कृष्ण बडथ्वाल ने आंतकियों की इस नापाक हरकत की निंदा करते हुए कहा कि पाकिस्तान की शह पर कश्मीर में लगातार अराजकता का माहौल तैयार किया जा रहा है. जिसका भारत सरकार को कड़ा जवाब देना चाहिए. पूर्व सैनिक सेवा परिषद से जुड़े पूर्व सैनिकों ने गोली का जवाब गोली से देने की मांग की.

पूर्व सैनिकों ने कहा कि जिस प्रकार यह हमला किया गया है, उससे साबित हो गया है कि पाकिस्तान को टेबल की भाषा समझ में नहीं आती, बल्कि उसको गोली की भाषा समझ में आती है.

केंद्र सरकार से पाक अधिकृत कश्मीर (PoK) में चल रहे आंतकी शिविरों को नष्ट करने की मांग करते हुए परिषद से जुड़े पूर्व सैनिकों ने कहा कि यदि कश्मीर में उनकी भी आंतकी शिविरों को नष्ट करने के लिए सेवाएं ली जाती हैं तो वह हरदम तैयार हैं. पूर्व सैनिकों ने आतंकी हमले में शहीद हुए सैनिकों को श्रद्धांजलि अर्पित की.