उत्तराखंड रोडवेज कर्मचारियों ने हड़ताल वापस ली, यात्रियों और सरकार ने ली राहत की सांस

उत्तराखंड परिवहन निगम के कर्मचारियों ने फिलहाल हड़ताल वापस ले ली है. परिवहन मंत्री नवप्रभात के साथ बातचीत के बाद रोडवेज कर्मचारियों ने हड़ताल खत्म करने की घोषणा कर दी है.

गुरुवार आधी रात से उत्तराखंड रोडवेज के करीब तीन हजार कर्मचारियों ने हड़ताल शुरू कर दी थी. हड़ताल के कारण यात्रियों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा. हड़ताल के चलते राज्य की लाइफ लाइन ठहर सी गई थी.

शुक्रवार को परिवहन मंत्री नवप्रभात से रोडवेज कर्मचारियों की बातचीत हुई. बातचीत में परिवहन मंत्री के साथ कई बिंदुओं पर सहमति होने के बाद रोडवेज कर्मचारियों ने स्ट्राइक वापस ले ली है. इससे लोगों को भारी राहत मिली है.

गुरुवार आधी रात से उत्तराखंड में आधी से ज्यादा रोडवेज बसों के पहिए थम गए थे. आउटसोर्स के ड्राइवरों और कंडक्टरों ने तीन दिनी हड़ताल शुरू कर दी थी. उत्तराखंड में आधी से ज्यादा बसों का संचालन आउटसोर्स कर्मचारियों के भरोसे ही होता है. गुरुवार की आधी रात से ही प्रमुख मार्गों पर बसों की किल्लत शुरू हो गई थी और लोगों की दिक्कतें भी बढ़ गई थी.

आउटसोर्स ड्राइवर-कंडक्टरों सहित तकनीकी संवर्ग कर्मियों ने नियमितीकरण की मांग कर रहे थे. इसके लिए कर्मचारियों की सरकार और परिवहन निगम प्रबंधन से बात भी चल रही थी. बातचीत विफल होने के बाद इन कर्मचारियों ने गुरुवार रात हड़ताल पर जाने का ऐलान कर दिया था. करीब तीन हजार कर्मचारी हड़ताल में शामिल थे.