हरक रावत का संकल्प, पूरे देश की तरह उत्तराखंड को भी बनाएंगे कांग्रेस मुक्त

बीजेपी में शामिल होने के बाद पहली बार श्रीनगर पहुंचे पूर्व मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा और पूर्व कैबिनेट मंत्री डॉ हरक सिंह रावत का बीजेपी कार्यकर्ताओं ने जमकर स्वागत किया.

कीर्तिनगर से नगर के गोला बाजार तक जुलूस के साथ पहुंचे कांग्रेस के दोनों बागी नेताओं के चेहरे पर भारी भीड़ देखकर खुशी साफ झलक रही थी. बीजेपी कार्यकर्ताओं की बाईक रैली के साथ खुली जीप में जनता का अभिवादन करते हुए जनसभास्थल पहुंचे दोनों बीजेपी नेताओं के साथ बीजेपी के राज्य प्रभारी श्याम जाजू और प्रदेश महामंत्री खजानदास भी मौजूद थे.

हालांकि राज्य से बीजेपी के सांसदों के भी जनसभा में शामिल होने की बात कही जा रही थी, लेकिन न तो गढ़वाल सांसद भुवन चन्द्र खंडूड़ी ही जनसभा में शामिल हुए और न ही अन्य कोई सांसद. बहरहाल पूर्व कांग्रेसी और अब बीजेपी नेता हरक सिंह रावत और विजय बहुगुणा की मौजूदगी में कई कांग्रेसियों ने बीजेपी का दामन थाम लिया.

बीजेपी में शामिल होने वाले कांग्रेसियों की संख्या 105 बताई जा रही है, जिसमें 72 रुद्रप्रयाग जिले से जबकि 33 कांग्रेसी पौड़ी जिले से हैं. बीजेपी में शामिल हुए कांग्रेसियों में कुछ पूर्व और मौजूदा जिला पंचायत सदस्यों के साथ कुछ ज्येष्ठ और कनिष्ठ ब्लॉक प्रमुख भी शामिल हैं.

जनसभा के दौरान विजय बहुगुणा और हरक सिंह रावत ने मुख्यमंत्री हरीश रावत और कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि पूरे देश की तरह राज्य को भी कांग्रेस मुक्त किया जाएगा.

राज्य में केदारनाथ आपदा सहित अन्य मामलों पर मुख्यमंत्री हरीश रावत की ओर से पूर्व सीएम विजय बहुगुणा पर की जा रही बयानबाजी पर पूर्व मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा ने सीएम हरीश रावत पर पलटवार किया. उन्होंने कहा कि जो हुआ अच्छा है मेरे दौर में हुआ, क्योंकि जो घोषणाएं मेरी ओर से की गई थीं, उसी से विकास दिख रहा है.

बहुगुणा ने कहा कि न तो सीएम हरीश रावत की जेब में पैसे थे और न ही प्रदेश के पास पैसा था, ऐसे में वे खाली घोषणा करते गए. उन्होंने कहा कि हर विधानसभा में लोग उनकी घोषणा के ऐवज में विकासकार्य नहीं होने पर उनसे सवाल-जवाब पूछेंगे.

उन्होंने कहा कि कांग्रेस छोड़ने वाले 10 विधायकों का सीएम हरीश रावत दमन कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि जिस तरह सीएम कांग्रेस छोड़ने वाले 10 विधायकों के क्षेत्रों में विकासकार्य रोक रहे हैं वे बतौर मुख्यमंत्री उन्हें शोभा नहीं देता.

पूर्व मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा ने कहा कि कांग्रेस तो खत्म हो चुकी है, अब तो केवल हरीश कांग्रेस ही बची हैं. उन्होंने कहा कि महाराज और मेरे समेत 10 विधायक कांग्रेस से चले गए और बड़ी संख्या में कांग्रेस छोड़ लोग बीजेपी में आ रहे हैं, ऐसे में नरेंद्र मोदी के नेतृत्य में इस राज्य का भविष्य दिखता है और जब भी राज्य में चुनाव होंगे बीजेपी की ही सरकार बनेगी.

दूसरी तरफ पूर्व कैबिनेट मंत्री और बीजेपी नेता हरक सिंह रावत ने कहा कि जितना हमला राज्य सरकार व हरीश रावत मुझ पर, कांग्रेस छोड़ चुके 10 विधायकों और बीजेपी पर कर रहे हैं. उतना मजबूत मैं, मेरे साथी और बीजेपी हो रहे हैं और उतना ही ज्यादा आर्शीवाद जनता का हमें मिल रहा है.

हरक रावत ने कहा कि नरेंद्र मोदी का कांग्रेस मुक्त देश का सपना हम राज्य में भी पूरा करेंगे. उन्होंने कहा कि राज्य में कांग्रेस को बूथ एजेंट न मिलें, ऐसी व्यवस्था हम कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि हमने हरीश रावत की अराजकता और माफियामुक्त उत्तराखंड का है संकल्प लिया है.