देहरादून : मोबाइल कंपनी ने पानी की टंकी के अंदर छुपाकर लगाया मोबाइल टावर, देखकर सभी दंग

मोबाइल टावर के कारण रेडिएशन की बातें अक्सर होती रहती हैं. ऐसे में रिहायशी इलाके में मोबाइल टावर लगाकर ग्राहकों में पैठ बनाने के लिए मोबाइल कंपनियां ऐसी चालाकी कर रही हैं कि आप जानकर दंग रह जाएंगे. ऐसा ही हुआ जब अस्थायी राजधानी देहरादून में प्रशासन को ऐसी जगह मोबाइल टॉवर लगा मिला जहां के बारे में कोई सोच भी नहीं सकता.

मोबाइल कंपनी ने चालाकी दिखाते हुए पानी की टंकी के अंदर मोबाइल टॉवर लगा दिया. लेकिन कंपनी की चालाकी पिछले शुक्रवार को पकड़ में आ गई. एमडीडीए टीम ने मौके पर पहुंचकर टावर को ढूंढ़ निकाला.

देहरादून के कांवली स्थित हरिपुरम में एक मोबाइल कंपनी ने चालाकी दिखाते हुए छोटा मोबाइल टावर लगा दिया. इसको देखकर किसी को शक ना हो इसलिए उसके बाहर से पानी की टंकी लगा दी. पानी की टंकी को नीचे से काटकर उसके अंदर पूरा का पूरा मोबाइल टावर लगा दिया गया.

पड़ोस में रहने वाली महिला को जब इसकी भनक लगी तो उन्होंने एमडीडीए सचिव पीसी दुमका से शिकायत की, जिसके बाद सचिव ने नोटिस जारी कर टावर को सील कर दिया.

उन्होंने बायलॉज के अनुसार कंपनी को कंपाउंडिंग के लिए मैप जमा करने का समय भी दिया, लेकिन कंपनी ने कंपाउंडिंग नहीं कराई. इसके बाद शुक्रवार को मौके पर पहुंची प्राधिकरण की टीम ने टावर को ध्वस्त कर दिया.

हरिद्वार बाईपास रोड पर खुर्शीद मोहम्मद के चार मंजिला कॉम्प्लेक्स को भी शुक्रवार को एमडीडीए ने सीज कर दिया. सचिव पीसी दुमका ने बताया कि अवैध कामर्शियल कॉम्प्लेक्स के खिलाफ इस माह यह दूसरी बड़ी कार्रवाई है. उन्होंने बताया कि खुर्शीद स्वीकृत नक्शे से हटकर निर्माण कर रहा था.

उसे नोटिस जारी कर कम्पाउंडिंग के लिए मैप जमा कराने को कहा गया, लेकिन उसने नहीं किया. इस पर शुक्रवार को विभागीय टीम मौके पर पहुंची और निर्माण को सीज कर दिया.