उत्तराखंड और भारत की शान पर्वतारोही जुड़वां बहनें ताशी-नुंग्शी अब इस अभियान पर…

दुनिया की सात ऊंची चोटियों और नॉर्थ व साउथ पोल को फतह कर विश्व रिकॉर्ड कायम करने वाली उत्तराखंड की पर्वतारोही जुड़वां बहने ताशी-नुंग्शी अब न्यूजीलैंड की सर्वोच्च चोटी माउंट कुक पर फतह करने की तैयारी में हैं.

माउंट एवरेस्ट और सेवन समिट्स पर चढ़ाई करने वाली पहली जुड़वां बहनों के तौर पर गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड्स में नाम दर्ज कराने वाली उत्तराखंड की नुंग्शी और ताशी मलिक अब न्यूजीलैंड की सर्वोच्च चोटी माउंट कुक पर फतह करने की तैयारी में हैं.

पर्वतारोहण उपलब्धियों के कारण ‘एवरेस्ट ट्विन’ के नाम से मशहूर ये जुड़वां बहनें अभी ‘बेटी बचाओ’ मुहिम से जागरुकता बढ़ाने के लिए ब्रिटेन में हैं. वे इस महीने ब्रिटेन में नुंग्शी ताशी फाउंडेशन के लिए धन जुटाने का अभियान चला रहा हैं.                                           tashi-nungshi1

उनका अगला लक्ष्य न्यूजीलैंड में सर्वोच्च पर्वत चोटी माउंट कुक को दिसंबर में फतह करने का है. इसमें वे सफल रहीं तो दोनों जुड़वां बहनों के नाम एक और रिकॉर्ड कायम हो जाएगा.

फाउंडेशन की अध्यक्ष नुंग्शी ने कहा, ‘यह फाउंडेशन आउटडोर, एडवेंचर स्पोर्ट्स और पर्वतारोहण के जरिए भारतीय लड़कियों और महिलाओं का विकास व सशक्तीकरण के लिए समर्पित है. हमने अपने परिवार के सामर्थ्य के मुताबिक इस मिशन के लिए धन जुटाने और जागरुकता बढ़ाने का प्रयास किया है.’

25 वर्षीय इन जुड़वां बहनों ने सभी महादेशों की सर्वोच्च पर्वत चोटियों पर चढ़ाई करते हुए ‘ग्रांड स्लैम’ पूरा करने के बाद ही पिछले साल इस फाउंडेशन की स्थापना की थी. ये उपलब्धियां पाने वाली वे पहली दक्षिण एशियाई महिलाएं बनी थीं.