रुड़की : फर्जी कागजात बनाकर HDFC बैंक से लिया एक करोड़ से ज्यादा का लोन

हरिद्वार जिले के रुड़की में फर्जी कागजात के जरिए एचडीएफसी बैंक से एक करोड़ सात लाख 20 हजार रुपये के लोन लेने की ठगी का मामला सामने आया है. बैंक के ब्रांच मैनेजर की शिकायत पर गंगनहर थाना पुलिस ने 36 आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर जांच-पड़ताल शुरू कर दी है. इसमें बैंक से जुड़े चार कर्मचारी भी शामिल हैं.

गंगनहर कोतवाली के अंतर्गत गणेशपुर निवासी विपिन चौधरी वाहन खरीदने-बेचने का कारोबार करता है. आरोप है कि वाहन खरीदने के नाम पर एचडीएफसी बैंक राजपुर रोड देहरादून की शाखा से अलग-अलग वाहनों के लिए फर्जी कागजात तैयार कर 32 लोगों के नाम से आवेदन किया गया और बैंक ने वाहन खरीदने के लिए अलग-अलग आवेदनों पर एक करोड़ सात लाख 20 हजार रुपये का लोन स्वीकृत भी कर दिया.

बाद में बैंक कर्मचारियों की ओर से जांच में कागजात फर्जी पाए गए. यही नहीं, कागजात में जिन चौपहिया वाहनों के नंबर दिए गए थे, वे दोपहिया निकले. एक करोड़ से अधिक की धोखाधड़ी सामने आने के बाद बैंक अधिकारियों के भी होश उड़ गए. गुरुवार को गंगनहर कोतवाली पहुंचे एचडीएफसी राजपुर रोड देहरादून के शाखा प्रबंधक अमित पंत की ओर से मामले में शिकायत दी गई.

इसके आधार पर पुलिस ने मुख्य आरोपी विपिन चौधरी निवासी गणेशपुर सहित 36 आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर लियाय. इसमें लोन देने से पहले बैंक की एजेंसी की ओर से जांच करने वाले चार कर्मचारियों के खिलाफ भी केस दर्ज किया गया है.

उन्होंने आरोपी से मिलीभगत कर गलत रिपोर्ट दाखिल की थी. गंगनहर थाना प्रभारी जवाहर लाल के अनुसार मामले की जांच के बाद जरूरी कार्रवाई की जाएगी.