फोन पर हुई दोस्ती, फिर शादी के नाम पर युवती का शारीरिक शोषण करता रहा कॉन्स्टेबल

एक पुलिस कॉन्स्टेबल ने पहले युवती से फोन पर दोस्ती की. फिर शादी का झांसा देकर उससे शारीरिक संबंध बनाए. बात शादी पर आई तो वह मुकर गया. इस पर युवती ने आरोपी कॉन्स्टेबल के साथ ही उसके परिजनों पर उत्पीड़न और जान से मारने की धमकी देने का आरोप लगाया है.

इस मामले में अस्थायी राजधानी देहरादून में पटेलनगर पुलिस ने आरोपी सिपाही सहित उसके परिवार के आधा दर्जन लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है. नेहरू कॉलोनी निवासी युवती ने पटेलनगर थाना पुलिस को दी गई शिकायत में बताया कि आरोपी मनीष कुकरेती उत्तरकाशी जिले में पुलिस में कॉन्स्टेबल के पद पर तैनात है.

युवती के मुताबिक जुलाई 2015 में फोन के जरिए उसका संपर्क मनीष से हुआ. इसके बाद अक्सर दोनों की फोन पर बात होने लगी. काफी दिन तक बातचीत होने के बाद दोनों की मुलाकात हुई तो मनीष ने युवती के समक्ष शादी का प्रस्ताव रख दिया. युवती ने भी शादी के लिए हामी भर दी.

आरोप है कि इसके बाद एक दिन मनीष ने युवती को मिलने के लिए बुलाया और पटेलनगर में निरंजनपुर सब्जी मंडी के पास स्थित एक होटल में ले गया. युवती के मुताबिक होटल में मनीष ने उसके साथ शारीरिक संबंध बनाए. इसके बाद दोनों का मिलना-जुलना जारी रहा और इस दौरान मनीष ने कई बार युवती के साथ दुष्कर्म किया.

युवती का आरोप है कि वह जब भी मनीष से शादी की बात कहती वह टाल जाता. पिछले दिनों युवती ने मनीष के परिवार वालों से मुलाकात कर पूरी बात बता दी. इस पर मनीष की मां, भाभी, बहनों, भाई प्रवीण व अमित और मनीष के दोस्त तोता ने उसके साथ गाली-गलौज की और जान से मारने की धमकी दी. थानाध्यक्ष पटेलनगर एके सैनी ने बताया कि मामले में सभी आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है.