हल्द्वानी : सास की हत्या कर भाग रहे प्रॉपर्टी डीलर का हुआ एक्सीडेंट, पुलिस के हत्थे चढ़ा

नैनीताल जिले में हल्‍द्वानी के मुखानी बाईपास मार्ग स्थित भगवती कॉलोनी के एक घर में बुधवार की रात दामाद ने सास को गोली मार दी. सास की मौके पर ही मौत हो गई। आरोपी दामाद कार से भाग रहा था, लेकिन रानीबाग में कार अनियंत्रित होकर कैंटर से टकरा गई. पुलिस ने घायल दामाद को बृजलाल अस्पताल में भर्ती कराया हैय पुलिस ने हत्या में इस्तेमाल हुआ हथियार भी बरामद कर लिया है.

अल्मोड़ा के मूल निवासी प्रॉपर्टी डीलर राजेंद्र सिंह बिष्ट उर्फ राजन दो दशक से भगवती कॉलोनी निवासी महेश चंद्र पांडे के मकान में पहली मंजिल पर किराए में रहते हैं. बुधवार रात प्रॉपर्टी डीलर के दामाद हरेंद्र बिष्ट का अपनी सास पुष्पलता बिष्ट (52) से घरेलू मामलों को लेकर विवाद हो गया.

ससुर का आरोप है कि दामाद ने रोकने के बावजूद गोली चला दी. गोली पुष्पलता बिष्ट के सीने में बाईं तरफ लगी और वह फर्श पर गिर पड़ी. आनन-फानन में दामाद अपनी स्विफ्ट कार लेकर भाग निकला.

घटना की सूचना मिलने के बाद एसपी सिटी यशवंत सिंह चौहान सहित बड़ी संख्या में फोर्स मौके पर पहुंची, तब तक पुष्पलता दम तोड़ चुकी थीं. पुलिस ने मौके से कारतूस बरामद किया.

पूछताछ से पता चला कि आरोपी दामाद रामनगर के गैबुआ का रहने वाला है. प्रॉपर्टी डीलर राजेंद्र ने अपनी बड़ी बेटी वंदना बिष्ट की शादी 13 साल पहले हरेंद्र से की थी. पुलिस ने घटना की जानकारी लेने के बाद आरोपी को पकड़ने के लिए वायरलेस सेट से सूचना प्रसारित कर दी.

पुलिस को सूचना मिली कि रानीबाग में कार और कैंटर के बीच टक्कर हो गई है. पुलिस ने मौके पर जाकर देखा तो घायल हरेंद्र पड़ा था. पुलिस ने उसे बृजलाल अस्पताल में भर्ती कराया. पुलिस ने उसके कब्जे से हमले में इस्तेमाल हुई लाइसेंसी पिस्टल भी बरामद कर ली. पुलिस के मुताबिक हरेंद्र अपने गांव गैबुआ (रामनगर) से मंगलवार को हल्द्वानी अपनी ससुराल आया था.

ससुर राजन सिंह बिष्ट ने बताया वह नैनीताल जा रहे थे. तभी उनका दामाद भवाली में मिला. वह ललित सेन के साथ रामगढ़ जाने की बात कह रहा था. ललित सेन और दीपू पांडे उसके साथ गए थे, लेकिन भवाली में ललित उतर गया था. इसके बाद वह घर लौटकर आए तो दामाद ने इस घटना को अंजाब दे दिया. दामाद भी प्रॉपर्टी डीलिंग का काम करता है. आरोपी का ढाई साल का बेटा और एक बेटी है.