विकास संकल्प यात्रा के तहत कांग्रेस उत्तराखंड भर में लगाएगी नारे, ‘जवाब दो मोदी..जवाब दो बीजेपी’

उत्तराखंड में सत्तारूढ़ कांग्रेस 10 सितंबर से शुरू हो रही अपनी ‘सतत विकास संकल्प यात्रा’ के दौरान केंद्र से पहाड़ी प्रदेश के साथ कथित रूप से सौतेला व्यवहार करने तथा ‘दलबदल का घाव’ देने को लेकर जवाब मांगेंगी.

यात्रा धार्मिक नगरी हरिद्वार से शुरू होगी और इसके प्रथम चरण में पार्टी चुनाव पूर्व किए गए वादों को कथित तौर पर पूरा नहीं करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से ‘जवाब दो मोदी..जवाब दो बीजेपी’ कार्यक्रम में ‘स्पष्टीकरण’ मांगेगी. इसके साथ ही सरकार की लोकोन्मुखी नीतियों को रेखांकित भी किया जाएगा.

प्रदेश कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता मथुरादत्त जोशी ने कहा कि शुरू में यात्रा की परिकल्पना सरकार की लोकोन्मुखी नीतियों तथा चुनावी राज्य में सरकार के फैसलों के बारे में लोगों को अवगत कराने के लिए एक मार्च के तौर पर की गई थी.

उन्होंने कहा कि लेकिन अब यात्रा के साथ ही ‘जवाब दो मोदी..जवाब दो बीजेपी’ कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा, जिसमें प्रधानमंत्री और केंद्र से पहाड़ी प्रदेश के साथ ‘सौतेला व्यवहार’ और दलबदल का धब्बा देने को लेकर स्पष्टीकरण मांगा जाएगा.

उन्होंने कहा कि इसके साथ ही हर किसी के खाते में 15 लाख रुपये जमा कराने, 25 लाख रुपये पेंशन देने, महंगाई पर काबू पाने, दो करोड़ युवाओं को रोजगार मुहैया कराने जैसे चुनाव पूर्व वादों को पूरा नहीं किए जाने पर भी स्पष्टीकरण मांगे जाएंगे.

जोशी ने कहा कि मुख्यमंत्री हरीश रावत के सुझाव पर यात्रा के एजेंडा में बदलाव किया गया है. हरीश रावत चाहते हैं कि अभियान में सिर्फ राज्य सरकार की उपलब्धियों को ही रेखांकित नहीं किया जाए, बल्कि निर्वाचित राज्य सरकार को अस्थिर किए जाने के लिए केंद्र द्वारा ‘रची गई साजिश का पर्दाफाश’ भी किया जाए.