मैं जिस आशा के साथ केजरीवाल को देख रहा था, वह समाप्त हो गई : अन्ना हजारे

समाजिक कार्यकर्ता अन्ना हजारे ने कहा कि वह ‘यह देखकर बहुत दुखी हैं’ कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के कुछ सहयोगी जेल जा रहे हैं, जबकि कुछ अन्य ‘धोखाधड़ी में लिप्त हैं.’

हजारे ने कहा, ‘मुझे बहुत पीड़ा पहुंची है. वह (केजरीवाल) जब मेरे साथ थे तो उन्होंने ग्राम स्वराज पर एक पुस्तक लिखी थी. क्या हम इसे ग्राम स्वराज कहेंगे? इस कारण मैं बहुत दुखी हूं. मैं जिस आशा के साथ केजरीवाल को देख रहा था, वह समाप्त हो गई.’

उनका यह बयान आम आदमी पार्टी के विधायक संदीप कुमार की गिरफ्तारी के बाद आया है, जिनपर एक महिला ने बलात्कार का आरोप लगाया है.