ऊर्जा निगम की मोबाइल ऐप जल्द, बिजली कटौती का ब्यौरा अब मिलेगा मोबाइल फोन पर

भारत सरकार ने देश भर के उपभोक्ताओं को बिजली कटौती और बिजली उत्पादन के संबंध में उनके मोबाइल पर एसएमएस के जरिए सूचना देने के लिए ऊर्जा मित्र पोर्टल और एक मोबाइल एप का निर्माण किया है, जैसे ही सप्लाई जाएगी संबंधित जेई उस फीडर कोड में संदेश डालेगा। वैसे ही उस फीडर के उपभोक्ताओं के मोबाइल पर एसएमएस आ जाएगा। विद्युत वितरण मंडल हल्द्वानी के एसई शेखर त्रिपाठी ने सभी उपभोक्ताओं से अपील की है कि वह तुरंत ऊर्जा निगम के संबंधित कार्यालय को अपना मोबाइल नंबर उपलब्ध कराएं।

जैसे ही आप अपने मोबाइल एप को खोलेंगे आपको पता चल जाएगा कि आपकी बिजली सप्लाई किस वजह से गई है और कितनी देर बाद सप्लाई बहाल हो जाएगी। ऐसा इसलिए मुमकिन होगा क्योंकि आपको बिजली सप्लाई करने वाले 11 केवी फीडर और संबंधित ट्रांसफार्मर का डाटा बेस ऊर्जा निगम के पास है। बस शर्त यही है कि आपका मोबाइल नंबर ऊर्जा निगम के पास होना चाहिए।

अगर बताए गए समय पर बिजली सप्लाई नहीं आई तो आपके क्षेत्र का जेई आपके मोबाइल पर फिर एसएमएस करेगा। इसलिए जरूरी है कि आप अपने बिजली के संबंधित कार्यालय में अपना मोबाइल नबंर कागज पर लिखकर दे दें। आप घर पर मीटर रीडिंग के लिए आने वाले बिजलीकर्मी को भी अपना मोबाइल नंबर लिखवा सकते हैं। फीडर का मैनेजर जेई होगा। बिजली कटौती की जानकारी उपभोक्ता के अलावा ग्रामीण विद्युतीकरण निगम के सर्वर में भी चली जाएगी। इसका फायदा यह होगा कि बिजली विभाग के आला अधिकारी को भी इस बात की जानकारी होगी कि उसके दायरे में आने वाले कौन-कौन से इलाकों के फीडरों से बिजली सप्लाई बंद पड़ी है। वह तुरंत संबंधित इलाके के ईई को सप्लाई फौरन दुरुस्त करने के निर्देश दे सकता है।