रुद्रप्रयाग : जखोली के विमला देवी हत्याकांड में पुलिस एक हफ्ते बाद भी खाली हाथ, लोगों में रोष

रुद्रप्रयाग जिले में जखोली ब्लॉक के विमला देवी हत्याकांड को एक हफ्ता बीत चुका है और पुलिस के हाथ अब भी खाली हैं. पुलिस उपाधीक्षक के नेतृत्व में 10 सदस्यीय टीम गांव में डेरा डाले हुए है. लेकिन अभी तक कोई सुराग हाथ नहीं लगा है.

पुलिस की सुस्ती अब भारी पड़ती दिख रही है. स्थानीय लोगों ने गुरुवार को एसडीएम को ज्ञापन देकर जल्द से जल्द मामले के खुलासे की मांग की है.

रुद्रप्रयाग के जखोली विकास खण्ड के जयंती गांव में बीते 26 अगस्त की रात को कुछ अज्ञात लोगों ने घर में सोई 50 वर्षीय विमला देवी की हत्या कर पूरे घर में आग लगा दी थी. पहले इस घटना को आत्महत्या माना जा रहा था, लेकिन बाद में हत्याकांड का खुलासा हुआ. पुलिस ने परिजनों की शिकायत पर अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज किया है.

बताया गया है कि इस हत्याकांड से पहले भी इसी परिवार की एक महिला पर धारदार हथियार से जानलेवा हमला किया गया था, जिसे सुलझाने में पुलिस नाकाम रही. अब इस हत्याकांड को भी उसी कड़ी से जोड़कर पुलिस जांच में जुटी है.

स्थानीय लोगों ने तहसील में प्रदर्शन कर मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजा और एक सप्ताह के भीतर मामले का खुलासा करने को कहा. साथ ही खुलासा न होने पर राजमार्ग जाम करने की चेतावनी भी दी. उधर उपजिलाधिकारी देवमूर्ति यादव का कहना है कि पुलिस जांच में जुटी है. पुलिस शीघ्र ही मामले की तह तक पहुंचेगी.

पुलिस अधीक्षक पीएन मीणा का कहना है कि कुछ महत्वपूर्ण मसलों पर अभी जांच चल रही है. पुराने मामलों को देखें तो जखोली क्षेत्र में अब तक पांच हत्या सम्बन्धी मामले सामने आ चुके हैं. पुलिस किसी भी मामले को सुलझाने में कामयाब नहीं हो पायी है. ऐसे में ग्रामीणों में शक बना हुआ है कि कहीं इस बार भी पुलिस के हाथ खाली न रह जाएं.