नैनीताल : उत्तराखंड हाईकोर्ट ने घोड़ों पर प्रतिबंध लगाने को कहा, अधिकारी सवारी करने लगे

नैनीताल स्थित उत्तराखंड हाईकोर्ट ने इस पहाड़ी पर्यटन स्थल में घोड़ों के संचालन पर रोक लगाने का निर्देश दिया है। इस आदेश को लागू करने की जिम्मेदारी नैनीताल नगर पालिका के जिम्मे दी गई है. लेकिन पालिका धिकारी कैसे हाईकोर्ट के आदेशों का मजाक उड़ाते हैं, एक बार फिर यह देखने को मिला है.

गुरुवार को पालिका की टीम घोडा स्टैंड पर पहुंची तो घोड़े मालिकों में खलबली मच गई. कई घोडों को तो पालिका के इन कर्मचारियों ने वापस कर दिया, लेकिन जिन घोडों को अवैध रूप से पालिका कर्मचारियों को रोकना था, पालिका कर्मचारी उन्हीं घोडों की सवारी करते दिखाई दिए. पालिका के ये कर्मचारी करीब 3 किलोमीटर दूर तक घोड़ों की सवारी करते रहे.

हालांकि ये अधिकारी, कर्मचारी हाईकोर्ट के आदेश का पालन करने की बात कह रहे है. छापेमारी के लिए पहुंची पालिका की अधीक्षक लता आर्या ने कहा कि कोर्ट के आदेश हैं, जिसके चलते घोड़ों के संचालन पर पूरी तरह से रोक लगाई गई है, लेकिन दर्जनभर से ज्यादा घोड़ों का संचालन यहां से किया जा रहा है. फिलहाल जिन घोडों को पकड़ा गया है, उनकी रिपोर्ट तैयार की जा रही है. रिपोर्ट उच्च अधिकारियों को दी जाएगी.