अब आप भी खरीद पाएंगे रिलायंस जिओ की सिम, 50 रुपये में 1 जीबी डाटा, कॉल मुफ्त

रिलायंस चेयरमैन मुकेश अंबानी ने गुरुवार को कंपनी की सालाना आम बैठक (एजीएम) में अपने शेयरधारकों को संबोधित करते हुए बहुप्रतीक्षित रिलायंस जिओ के संबंध में जानकारी साझा की. रिलायंस जिओ का सॉफ्ट लॉन्च तो हो चुका है अब 5 सितंबर को जिओ की सिम सभी के लिए भी उपलब्ध होगी.

रिलायंस जिओ सिम हासिल करने के लिए पिछले कुछ दिनों में लोगों की लंबी-लंबी कतारें देखी गई हैं. फ्री डाटा और फोन कॉल्स को लेकर अन्य टेलिकॉम कंपनियों ने रिलायंस की आलोचना भी की है. आईए जानें एजीएम में मुकेश अंबानी ने क्या कहा.

भारत की सीमाओं के भीतर रिलायंस जिओ में वॉयस कॉल और रोमिंग के लिए कोई शुल्क नहीं लिया जाएगा. मुकेश अंबानी ने कहा कि ग्राहकों से सिर्फ एक ही चीज़ (डाटा या वॉयस कॉल) का पैसा लिया जाना चाहिए, दोनों का नहीं.

रिलायंस जिओ में जो डाटा कीमतें ग्राहकों से अब तक वसूली जा रही, वह अन्य कंपनियों की तुलना में 20 फीसदी ही हैं. रिलायंस जिओ में एक गीगाबाइट (जीबी) डाटा के लिए सिर्फ 50 रुपये वसूले जाएंगे.

जिओ में शेष ऑपरेटरों की तरह ‘ब्लैकआउट डे’ नहीं होंगे – जैसे दिवाली जैसे मौकों पर मुफ्त एसएमएस वाली ऑफर काम करना बंद कर देते हैं, क्योंकि संदेश ज़्यादा भेजे जाते हैं.

सोमवार से, कोई भी रिलायंस जिओ की सेवाओं के लिए साइन अप कर सकेगा और 31 दिसंबर तक किसी भी तरह का कोई शुल्क नहीं लिया जाएगा.

दूसरी ओर, प्रतियोगी कंपनियों ने शिकायत की है कि जिओ, जो अभी बीटा चरण (टेस्टिंग फेज़) में होने का दावा कर रहा है, ने फोर्थ जेनरेशन या 4जी एयरवेव का इस्तेमाल कर ग्राहकों को तोड़ने के लिए मुफ्त कॉल ट्रायल की पेशकश की है.