जागेश्वर धाम बना अनोखी शादी का गवाह, 32 साल की दुल्हन ने 70 के दूल्हे को पहनाई वरमाला

अल्मोड़ा जिले में स्थित जागेश्वर धाम की ख्याति किसी से छिपी नहीं है. भगवान भोलेनाथ के इस पावन धाम में दुनियाभर से लोग अपनी मन्नतें मांगने के लिए आते हैं और यहां की खूबसूरती भी देखने लायक है. यहां का महामृत्युंजय मंदिर एक अनोखी शादी का गवाह बना. 70 साल के दूल्हे और 32 की दुल्हन की अनोखी शादी चर्चा यहां हर तरफ है.

उत्तराखंड की अस्थायी राजधानी देहरादून का एक 70 वर्षीय व्यक्ति 32 साल की युवती को लेकर रव‌िवार शाम राज्य की सांस्कृतिक राजधानी अल्मोड़ के जागेश्वर धाम पहुंचा. व्यक्ति ने मंदिर के पुजारी आनंद भट्ट से शादी करवाने को कहा.

लेकिन किसी वजह से आनंद भट्ट शादी के लिए समय नहीं दे पाए. इसके बाद वहां मौजूद नवीन चंद्र भट्ट शादी करवाने के लिए तैयार हो गए. इसके बाद धाम में दोनों की शादी हो गई.

jageshwar1

पंडित ने बताया कि दोनों ने फेरे और अन्य रस्मोरिवाज के चक्कर में न पड़ बरमाला डालकर एक-दूसरे को अपना लिया. बाद में दोनों ने पति-पत्नी के रूप में मंदिर के दर्शन भी किए.