खनन, टैक्स, बिजली चोरी की तो खैर नहीं, छापेमारी के निर्देश जारी : डीएम दीपक रावत

करावंचन की बैठक लेते हुए जिलाधिकारी दीपक रावत ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे नियमित छापेमारी कर राजस्व बढ़ायें। उन्होंने कहा कि खनन,टैक्स,विद्युत चोरी के साथ ही अन्य किसी प्रकार की राजस्व चोरी पर पूर्णतया प्रतिबन्ध लगाया जाये।

बैठक में सहायक आयुक्त वाणिज्यकर पर्वतन संतोष सिंह व इरशाद खान, के बैठक में न उपस्थित होने पर वेतन रोकने के निर्देश देते हुए सब रजिस्ट्रार रामगढ़ व धारी से स्पष्टीकरण लेने के निर्देश अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व बीएल फिरमाल को दिये। वाणिज्यकर द्वारा चालू वित्तीय वर्ष में 171 करोड़ के साथ ही पर्वतन दलों द्वारा छापेमारी कर 35 लाख का राजस्व वसूला है। इसी तरह निबन्धन से 29.24 करोड़, आबकारी से 120 करोड़ व छापामारी से 4.12 लाख, खनन से 86.96 करोड़ के साथ ही पर्वतन दलों द्वारा छापेमारी कर 14 करोड़ आरसी जारी की गई, परिवहन विभाग द्वारा 23.08 करोड़ राजस्व वसूला गया। इसी तरह वन विभाग द्वारा 53.27 लाख मनोरंजन द्वारा छापेमारी कर 77 हजार का राजस्व वसूला गया।

जिलाधिकारी श्री रावत ने वाणिज्यकर को होटल व गेस्ट हाउसों से शतप्रतिशत सुखसाधन कर लेने के साथ ही विद्युत विभाग के विजिलेंस टीम फैक्ट्ररी,होटलों में छापेमारी के साथ ही बड़े बकायेंदारों से वसूली करने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने नगर निगम/पालिका व नगरपंचायतों के अधिकारियों को  निर्देश कि वे भवनकर के साथ ही अन्य सुविधाकरों की वसूली में कतई शिथिलता न बरतने के निर्देश दिये। साथ ही उन्होंने मनोरंजन कर अधिकारी को निर्देश दिये कि वे जनपद में संचालित केबिल,सिनेमा हाॅल के साथ ही 9डी व 7डी सिनेमा व विडियों गैमों में नियमित छापेमारी करें। साथ ही उन्होंने परिवहन विभाग, आबकारी विभाग को निर्देश दिये कि वे भी सक्रिय होकर छापेमारी करें।

बैठक में सहायक आबकारी आयुक्त दुर्गेश त्रिपाठी,डिप्टी कमीशनर वाणिज्यकर राहुल वर्मा,सहायक आयुक्त मनोरंजन एसके0 रस्तोगी, उप श्रम आयुक्त अनिल पेटवाल,उपनिदेशक खनन राजपाल लेघा, अधिशासी अभियन्ता मो0 उस्मान,एआरटीओ0 प्रशासन संदीप  वर्मा, वन, निबन्धन, नगर निकाय के अधिकारी उपस्थित थे।