घर में मिली महिला की अधजली लाश, किचन-कमरे में खून के धब्बे, समान बिखरा पड़ा

रुद्रप्रयाग जिले में जखोली क्षेत्र स्थित जयंती बरसीर गांव में घर में अकेली महिला की हत्या कर जला देने का खौफनाक मामला सामने आया है. घर में रखा अनाज, कपड़े व अन्य सामान फैले हुए और मुख्य गेट का लॉक टूटा हुआ मिला. पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पंचायतनामा के बाद पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल रुद्रप्रयाग भेज दिया.

महिला की हत्या कर लाश जलाने की आशंका जताई जा रही है. हालांकि अभी यह कहना मुश्किल है कि महिला को मारकर जलाया गया ‌या जिंदा. पहले बताया गया था कि महिला की मौत रसोई गैस सिलेंडर में लगी आग से हुई.

शनिवार को सुबह 7 बजे विमला देवी (50) पत्नी स्व. नरोतम प्रसाद थपलियाल के घर के अंदर से धुंआ उठता देख वहां से गुजर रहे कुछ ग्रामीणों ने महिला को आवाज दी. घर के अंदर से कोई जवाब मिलता न देख जब ग्रामीण घर के मुख्य दरवाजे पर पहुंचे तो देखा कि कुंडा और ताला टूटा था. बरामदे में लगी ग्रिल का लॉक भी टूटा था और बरामदे में राशन सहित अन्य सामान बिखरा हुआ था.

ग्रामीणों ने देखा कि कमरे का दरवाजा खुला है और फर्श पर कपड़े जले हुए थे. पलंग पर रजाई-गद्दों के ढेर से धुंआ उठ रहा है. रजाई-गद्दे हटाने लगे तो उसके अंदर महिला को अधजली अवस्था में पड़ी देख ग्रामीण सन्न रह गए. वहीं फर्श पर खून के धब्बे बिखरे पड़े थे.

women-murder-in-jakholi

किचन में रखे रसोई गैस सिलेंडर की पाइप और कुछ जले कपड़ों पर भी खून लगा हुआ पाया. ग्रामीणों ने घटना की सूचना मयाली पुलिस चौकी को दी. सूचना मिलने पर सुबह आठ बजे चौकी प्रभारी केएस बिष्ट फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे. उन्होंने घटना का मुआयना करते हुए शव को अपने कब्जे में लिया. तुरंत सूचना उच्चाधिकारियों को दी गई.

सबुह 10 बजे एसपी पीएन मीणा, सीओ बीएस चौहान सहित जखोली के एसडीएम देवमूर्ति यादव, तहसीलदार सुनील राज आदि गांव पहुंचे. इस दौरान ग्राम प्रधान व ग्रामीणों की मौजूदगी में शव का पंचायतनामा भरा गया. पुलिस अधीक्षक ने बताया कि महिला के बेटे को सूचना दे दी गई है. वहीं पुलिस ने हत्या में दो से अधिक लोगों के होने की आशंका जताई है.

हादसे का शिकार हुई महिला पिछले चार दिन से अकेली रह रही थी. श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के पर्व के लिए पुत्रबधू दोनों बच्चों को लेकर अपने मायके कोठियाड़ा गांव गई थी. मृतक महिला का इकलौता बेटा ऋषिकेश में नौकरी करता है.

uttarakhand-police-gen

कांग्रेस के जिलाध्यक्ष प्रदीप थपलियाल गांव पहुंचे और घटना पर दुख जताया. उन्होंने प्रशासन और पुलिस पर क्षेत्र की अनदेखी का आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि सुरक्षा व कानून व्यवस्था के नाम पर रेगुलर और राजस्व पुलिस खानापूर्ति साबित हो रही है. थपलियाल ने 48 घंटे में हत्या मामले का खुलासा करने की मांग की है.

विमला देवी का घर गांव से करीब डेढ़ सौ मीटर की दूरी पर है. दूसरी तरफ खराब मौसम के कारण शुक्रवार रात को गांव सहित पूरे क्षेत्र में बिजली सप्लाई ठप थी. ऐसे में न तो गेट व ग्रिल के ताले टूटने की आवाज किसी ने सुनी और न अंधेरे में कुछ देखा गया.