उत्तराखंड से है पुराना नाता, अब यहां पार्टी की कमान भी संभालेगा ये वरिष्ठ कांग्रेसी

वरिष्ठ कांग्रेसी नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री कमलनाथ को उत्तराखंड का प्रदेश प्रभारी बनाया जा सकता है. फिलहाल यह जिम्मेदारी पूर्व केंद्रीय मंत्री अंबिका सोनी संभाल रही हैं. सूत्रों के मुताबिक बुधवार को दिल्ली में कोऑर्डिनेशन कमेटी की बैठक के बाद अंबिका सोनी ने आलाकमान से मुलाकात कर इस जिम्मेदारी को आगे निभाने में असमर्थता जताई है.

उत्तराखंड से अच्छी तरह से परिचित कमलनाथ को अब उत्तराखंड के साथ हिमाचल और जम्मू की कमान भी सौंपी जा सकती है. उत्तराखंड में सरकार और संगठन के बीच मौजूद दरार को भरना कमलनाथ के लिए बड़ी चुनौती साबित हो सकती है.

बता दें कि अंबिका सोनी के पास उत्तराखंड के अलावा पंजाब में कैंपेन कमेटी की सदस्य का भी प्रभार है. अंबिका सोनी पंजाब से ही हैं. कांग्रेसी सूत्रों के मुताबिक उन्होंने दोनों राज्यों का कामकाज संभालने में समस्या होने की बात कहते हुए उत्तराखंड के प्रभारी पद से हटने की इच्छा आलाकमान के सामने जताई.

वह पंजाब को नहीं छोड़ना चाहती हैं. ऐसे में आलाकमान उत्तराखंड के नए प्रदेश प्रभारी की तलाश में जुट गया है. इसमें सबसे ऊपर नाम कमलनाथ का ही है. कई दशकों से कांग्रेस में सक्रिय कमलनाथ केंद्र में महत्वपूर्ण मंत्रालय के अलावा संगठन में भी अहम भूमिका निभा चुके हैं.

यही नहीं कमलनाथ यहीं अस्थायी राजधानी देहरादून के दून स्कूल में पढ़े हैं. उत्तराखंड में उनका काफी आना-जाना होने से वे यहां के सियासी माहौल और अन्य समीकरणों से भली भांति परिचित भी हैं. इसलिए काफी संभावना है कि उन्हें नया प्रभारी बनाया जा सकता है. हालांकि उन्हें उत्तराखंड के साथ-साथ जम्मू और हिमाचल का दायित्व भी सौंपा जाएगा.