भारतीय संविधान के दायरे में कश्मीर पर बातचीत मंजूर नहीं : अलगाववादी सैयद अली शाह गिलानी

हुर्रियत कांफ्रेंस के कट्टरपंथी धड़े के प्रमुख सैयद अली शाह गिलानी ने बुधवार को कहा कि कश्मीर मुद्दे के हल के लिए भारतीय संविधान के दायरे में बातचीत उन्हें मंजूर नहीं है.

उन्होंने फोन के जरिए दक्षिण कश्मीर में एक रैली को संबोधित करते हुए कहा, ‘हमें भारतीय संविधान बिल्कुल मंजूर नहीं है. इसलिए उसके दायरे में बातचीत का कोई सवाल ही नहीं उठता.’

इस समय अपने घर में नजरबंद अलगाववादी नेता ने कश्मीर मुद्दे को लेकर बातचीत से जुड़े प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बयान की तरफ इशारा करते हुए कहा, ‘भारतीय संविधान के दायरे में बातचीत कुछ नहीं बल्कि समय की बर्बादी है और ऐसा पिछले सात दशकों से होता रहा है.’