बार-बार भूस्खलन के चलते जानलेवा हुआ रुद्रप्रयाग-गौरीकुंड राजमार्ग

रुद्रप्रयाग-गौरीकुंड राजमार्ग रागहीरों के लिए सिरदर्द बनता जा रहा है. हल्की सी बारिश में मार्ग जहां जगह-जगह भूस्खलन के चलते बंद हो रहा है, वहीं बरसात के चलते पुस्ते टूट रहे हैं और मार्ग जानलेवा बना हुआ है.

राजमार्ग मुख्य रूप से सिरोबगड, बांसवाडा सेमी भैसारी, सेरसी, फाटा व मुण्डकटिया में बंद हो रहा है. रविवार देर रात से मार्ग बांसवाडा में बंद रहा जो सोमवार दोपहर में खुल पाया. बारिश ने जहां प्रशासन के इंतेजामों की पोल खोल कर रख दी है, वहीं राजमार्ग महकमे की लचर कार्यप्रणाली को उजागर कर दिया है.

वहीं दूसरी तरफ उत्तराखंड के बाकी जिलों में बीते एक सप्ताह से जारी बारिश के कारण प्रदेश की कम से कम 135 सड़कें क्षतिग्रस्त हो चुकी हैं, जिसके कारण इनपर यातायात ठप हो चुका है. अधिकारियों ने सोमवार को यह जानकारी दी.

एक अधिकारी ने कहा कि चारधाम यात्रा-यमुनोत्री, गंगोत्री बद्रीनाथ और केदारनाथ- के लिए सालाना तीर्थयात्रा के मार्गों पर भी यातायात ठप हो गया है. पहाड़ी राज्य के अधिकांश जिले प्रभावित हैं.