रेखा आर्या के पति के बचाव में ये क्या बोल गए पूर्व मुख्यमंत्री भगत सिंह कोश्यारी!

पूर्व मुख्यमंत्री और सांसद भगत सिंह कोश्यारी शनिवार को सोमेश्वर की पूर्व विधायक रेखा आर्या के पति पप्पू गिरधारी के बचाव में नजर आए. उन्होंने कहा कि किसी के हिस्ट्रीशीटर होने के मतलब वह बदमाश नहीं हो जाता. हिस्ट्रीशीटर तो पुलिस झूठे मुकदमे दर्ज करके भी बना देती है. कोश्यारी ने कहा कि राज्य सरकार जान बूझकर कुछ लोगों को जबरन फंसाने की कोशिश कर रही है.

शनिवार को कलक्ट्रेट स्थित डीएम कार्यालय में पत्रकारों के सवालों के जवाब में कोश्यारी ने रुद्रपुर में कहा कि कई नेता, सांसद और मंत्री भी हिस्ट्रीशीटर रह चुके हैं, लेकिन क्या वह अपराधी हैं या अपराध कर रहे हैं. मुझ पर भी कई मुकदमे दर्ज हुए हैं. पिथौरागढ़ में रेल लाइन उखाड़ने का मुकदमा भी दर्ज किया गया, जबकि पिथौरागढ़ में रेल लाइन है ही नहीं.

कांग्रेस के बागी विधायकों के सवाल पर कोश्यारी ने कहा कि पार्टी में आने वाले बागी नहीं, बल्कि वह त्यागी हैं. उन्होंने कांग्रेस का त्याग किया है और बीजेपी में उन्हें सम्मान मिला है. त्याग की भावना रखने वालों का हमेशा सम्मान होता है. टिकट देने के सवाल पर उन्होंने कहा कि यह पार्टी हाईकमान तय करेगा, किसे टिकट देना है.

आगामी विधानसभा चुनाव में कौन सीएम चेहरा होगा के सवाल पर कोश्यारी ने कहा कि यह चुनाव के समय ही तय होगा. सीएम बनने की महत्वाकांक्षा सभी को होती है. हालांकि उन्होंने स्पष्ट नहीं कहा कि वह सीएम के दावेदार हैं. इस दौरान उनके साथ खटीमा विधानसभा क्षेत्र के बीजेपी विधायक पुष्कर सिंह धामी भी थे.