AAP द्वारा की गई उत्तराखंड उर्जा निगम में भ्रष्टाचार की शिकायत का पीएमओ ने लिया संज्ञान

प्रधानमंत्री कार्यालय ने आम आदमी पार्टी द्वारा उत्तराखंड उर्जा निगम में भ्रष्टाचार होने के संबंध में दर्ज करायी गयी लिखित शिकायत का संज्ञान ले लिया है।

आप नेता और सामाजिक कार्यकर्ता अनूप नौटियाल ने यहां यह दावा करते हुए कहा, ‘‘उत्तराखंड उर्जा निगम में भ्रष्टाचार के संबंध में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भेजे गये हमारे शिकायती पत्र को प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से मामले में जांच एवं कार्यवाही हेतु अग्रसारित कर दिया गया है।’’ उर्जा निगम में भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए नौटियाल ने प्रधानमंत्री को एक अगस्त को पत्र लिखा था। पत्र में आरोप लगाया गया था कि 240 करोड रूपये के कार्य के लिये मांगी गयी निविदाये अलग-अलग तारीखों को खोली गयीं जो सरकार के नियमों का खुला उल्लंघन है।

कैग ने भी इस मामले में नियमों का उल्लंघन कर निविदायें खोलने के लिये उर्जा निगम की खिंचाई की है।

प्रधानमंत्री कार्यालय से मिली प्रतिक्रिया से उत्साहित नौटियाल ने कहा कि भ्रष्टाचार के दंश से जूझ रही प्रदेश की जनता को पारदर्शी और ईमानदार माहौल देने के हमारे संकल्प के तहत हम आने वाले दिनों में हम जनता से जुड़े स्वास्थ्य, शिक्षा, परिवहन आदि प्रदेश सरकार के महत्वपूर्ण विभागों में भ्रष्टाचार की कलई खोलने का प्रयास करेंगे।