हरक रावत पर रेप का आरोप लगाने वाली महिला पलटी, कहा- हरीश रावत के लोगों के दबाव में ऐसा किया

बीजेपी नेता हरक सिंह रावत पर दिल्ली में दुष्कर्म का मामला दर्ज कराने वाली महिला अपने बयान से पलट गई है. महिला ने बुधवार को दिल्ली की साकेत कोर्ट में 164 के तहत बयान दर्ज करवाए हैं.

बताया गया है कि बयान में महिला ने कहा है कि उसके साथ कोई रेप हुआ ही नहीं है. बाद में महिला ने मीडिया से रूबरू होते हुए कहा कि मुख्यमंत्री हरीश रावत के लोगों ने हरक रावत के खिलाफ मामला दर्ज कराने के लिए उस पर दबाव डाला गया था. इसीलिए उसने दबाव में आकर मामला दर्ज कराया था.

गौरतलब है कि पिछले शुक्रवार को दिल्ली के सफदरजंग थाने में 28 जुलाई को हरक सिंह के खिलाफ असम निवासी एक महिला ने रेप का केस दर्ज करवाया था. दिल्ली के सफदरजंग थाने में मुकदमा दर्ज होने के बाद से पूर्व मंत्री हरक सिंह रावत गायब चल रहे हैं.

हरक सिंह रावत की गिरफ्तारी के लिए दिल्ली पुलिस की तीन टीमों ने उत्तराखंड में डाला हुआ था, हालांकि देहरादून के पुलिस अधिकारियों ने इस मामले में दिल्ली पुलिस द्वारा संपर्क साधे जाने से इनकार किया था.
इसी बीच मह‌िला के अपने बयान से मुकर जाने से मामले में नया मोड़ आ गया है.