भारत, बांग्लादेश की नई रेल परियोजना के लिए आधारशिला रखी

नई भारत-बांग्लादेश रेलवे परियोजना को अंतिम रूप देने के छह वर्षो के बाद दोनों देशों के रेल मंत्रियों ने रविवार को 968 करोड़ रुपये की परियोजना की आधारिशला रखी। भारत के रेल मंत्री सुरेश प्रभु और उनके बांग्लादेशी समकक्ष मजिबुल हक ने संयुक्त रूप से 15 किलोमीटर लंबे अगरतला (भारत)-अखूरा (बांग्लादेश) रेल परियोजना की आधारशिला रखी।

बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना की जनवरी 2010 में नई दिल्ली की यात्रा के दौरान तत्कालीन भारतीय प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के साथ मुलाकात में अगरतला-अखूरा रेलवे परियोजना पर सहमति बनी थी।

इस परियोजना को 2012-13 के रेलवे बजट में मंजूरी मिली थी।

प्रभु ने कहा कि इस परियोजना के पूरा हो जाने पर भारत-बांग्लादेश रेल संपर्क परियोजना पूरे पूर्वोत्तर क्षेत्र के लिए लाभप्रद होगी।

उन्होंने कहा, ‘अगरतला-अखूरा अंतर्राष्ट्रीय रेल लिंक से पूर्वोतर क्षेत्र के सामाजिक-आर्थिक विकास को बढ़ावा मिलेगा।’

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जून 2015 में अपनी ढाका यात्रा के दौरान बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना के साथ रेल परियोजना पर चर्चा की थी। भारत सरकार इस रेल परियोजना की पूरी लागत वहन करेगी।

पूर्वोत्तर फ्रंटियर रेलवे (एनएफआर) के महाप्रबंधक एच.के.जग्गी ने कहा कि केंद्रीय पूर्वोत्तर क्षेत्र विकास (डोनियर) मंत्रालय ने त्रिपुरा में रेल लाइन बिछाने के लिए जमीन अधिग्रहण के उद्देश्य से पहले ही 97 करोड़ रुपये जारी किए हैं।