…और नीलाम हो जाएंगे विजय माल्या के 700 करोड़ के जेट से लेकर कार तक

कारोबारी विजय माल्या के भारत आने के इंतजार में बैठे उन्हें कर्ज देने वाले बैंक तथा कर विभाग के अधिकारी अब उनकी बंद पड़ी किंगफिशर एयरलाइंस की 700 करोड़ रुपये मूल्य की संपत्ति की अगले महीने नीलामी कराने जा रहे हैं। जिन सामानों के लिए समुचित बोली लगाने वालों का इंतजार है।

इनमें मुंबई हवाईअड्डे के पास ही स्थित किंगफिशर एयरलाइंस का पुराना मुख्यालय किंगफिशर हाउस, कंपनी की कारें एवं कार्यालय फर्नीचर, माल्या का आलीशान जेट, दावतों के आयोजन के लिए मशहूर गोवा में किंगफिशर विला तथा ‘फ्लाई विद गुड टाइम्स’ सहित कंपनी के कई ब्रांड और ट्रेडमार्क शामिल हैं।

इन संपत्तियों की नीलामी का यह दूसरा प्रयास है। कंपनी पर हजारों करोड़ रुपये के बकायों की वसूली के प्रयासों के तहत इन सम्पत्तियों की पहले कराई गई नीलामी ठंडी रही थी।

माल्या के निजी जेट विमान की नीलामी सेवा कर विभाग तथा अन्य संपत्तियों की नीलामी बैंक करा रहे हैं, जिनका किंगफिशर एयरलाइंस पर बकाया 9,000 करोड़ रुपये से ऊपर पहुंच गया है। इसमें कर पर ब्याज भी शामिल है।

पूर्व की नीलामी में बोलीदाताओं के नहीं आने के बाद लगभग सभी संपत्तियों के लिए आरक्षित मूल्य को कम कर दिया गया है। भारतीय स्टेट बैंक की अगुवाई में 17 बैंकों का समूह मुंबई में किंगफिशर हाउस, किंगफिशर के लोगो सहित एयरलाइंस के ट्रेडमार्क और ब्रांड की फिर से नीलामी कर रहा है।

बैंकों का समूह चार अगस्त को किंगफिशर हाउस की नीलामी करेगा। इसके लिए आरक्षित मूल्य कम कर 135 करोड़ रुपये किया गया है। इससे पहले मार्च में विर्ले पार्ले स्थित 17,000 वर्ग फुट में बने इस संपत्ति के लिये 150 करोड़ रुपये आरक्षित मूल्य रखा गया था, लेकिन कोई बोलीदाता सामने नहीं आया।

बैंकों ने 13.70 लाख रुपये की कुछ चल संपत्ति को भी नीलामी के लिए रखा है। ये संपत्ति किंगफिशर हाउस में पड़ी है। इसकी नीलामी एसबीआई कैप ट्रस्ट 25 अगस्त को करेगी। जो सामान बिक्री के लिए रखा जाएगा, उसमें आठ कारें.. टोयोटा इनोवा, होंडा सिटी, होंडा सिविक तथा टोयोटा कोरोला सहित अन्य शामिल हैं। प्रत्येक कार के लिए कीमत दायरा 90,000 रुपये से 2.50 लाख रुपये के बीच है।

एसबीआई कैप ट्रस्टी के सार्वजनिक नोटिस के अनुसार इन सामानों की बिक्री व्यक्तिगत आधार पर की जाएगी और आरक्षित मूल्य से कम भाव पर नहीं बेचा जाएगा।