हरिद्वार ग्रामीण विधानसभा में CM हरीश रावत की बेटी हुई सक्रिय, पार्टी के टिकट दावेदारों में हड़कंप

मुख्यमंत्री हरीश रावत की बेटी अनुपमा रावत इन दिनों हरिद्वार ग्रामीण विधानसभा सक्रिय दिख रही है. अनुपमा की इस सक्रियता से कांग्रेस में टिकट के दावेदारों के बीच हड़कंप मच गया है. कई दावेदार तो अभी से ही दूसरी राजनीतिक पार्टियों में अपना राजनीतिक भविष्य तलाशने में जुट गए हैं.

खबरें हैं कि पूर्व में कांग्रेस के टिकट पर विधानसभा चुनाव लड़ चुका एक दावेदार बसपा में जाने की तैयारी में है. जबकि कई पार्टी पदाधिकारी अनुपमा की दावेदारी से खफा हैं. आगामी विधानसभा चुनाव के परिपेक्ष्य में देखा जाए तो कांग्रेस और बीजेपी दोनों ही दलों में हर विधानसभा सीट पर दावेदारों की कतार लगी हुई है.

हरिद्वार ग्रामीण विधानसभा सीट पर सीएम हरीश रावत की बेटी अनुपमा रावत के अलावा पिछली बार चुनाव लड़ चुके इरशाद अंसारी, वरिष्ठ नेता हनीफ अंसारी एडवोकेट, धर्मेंद्र अंबूवाला जैसे कई दावेदार टिकट की लाइन में हैं. लेकिन अनुपमा की सक्रियता से बाकी दावेदारों की नींद उड़ी हुई है.

टिकट की बात न बनती देख कुछ दावेदारों ने तो अपना नया सियासी आशियाना तलाशना भी शुरू कर दिया है. कई दावेदार इस समय बीएसपी नेताओं के संपर्क में हैं. जबकि इस सीट पर बीएसपी में पहले से मुकर्रम अंसारी व जयंत चौहान टिकट के प्रबल दावेदार हैं.

कुछ कांग्रेसी दावेदार सीधे बीएसपी हाईकमान से जोड़-जुगत लगाने में जुटे हैं. इतना ही नहीं कांग्रेस के एक दावेदार ने तो बीएसपी में शामिल होने की पूरी तैयारी भी कर ली है. पूरी विधानसभा क्षेत्र में इसकी चर्चा जोरों पर है.