सऊदी अरब में भूख से तड़प रहे हैं 10000 बेरोजगार भारतीय, सुषमा मदद को आगे आईं

नौकरी गंवाने के बाद 10000 से ज्यादा भारतीय कामगार पैसों के अभाव में सऊदी अरब में भूख से तड़प रहे हैं. सरकार ने इस खाड़ी देश में भारतीय दूतावास को यहां फंसे भारतीयों की मदद करने को कहा है. विदेश राज्य मंत्री वी.के. सिंह इस मुद्दे को सुलझाने के लिए सऊदी अरब रवाना होने वाले हैं.

देर शाम विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने सऊदी अरब मौजूद 30 लाख भारतीयों से अपील की कि वे इस देश में मुसीबत में फंसे अपने भाई-बहनों की मदद करें. उन्होंने जोर देकर कहा कि भारतीय के रूप में सामूहिक इच्छा से ज्यादा शक्तिमान कुछ नहीं हो सकता.

विदेश मंत्री ने भारतीय दूतावास को निर्देश दिया गया है कि वह उनके लिए भोजन की व्यवस्था करे. उन्होंने कहा कि वह हर घंटे इस मामले पर नजर रख रही हैं. सुषमा की यह प्रतिक्रिया उस समय आयी, जब शुरुआत में यह खबर आयी थी कि नौकरी गंवाने के बाद करीब 800 भारतीय कामगार सऊदी अरब के जेद्दा शहर में पिछले तीन दिनों से कथित तौर पर भूख से तड़प रहे हैं.

एक शख्स ने सुषमा को ट्वीट कर कहा था कि जेद्दा में करीब 800 भारतीय भूखे हैं. उस शख्स ने सुषमा से दखल देने की गुहार लगाई थी.

विदेश मंत्री ने ट्वीट किया, ‘हमने रियाद में भारतीय दूतावास से कहा है कि वह सऊदी अरब में बेरोजगार भारतीय कामगारों को मुफ्त राशन मुहैया कराए.’ उन्होंने कहा कि सऊदी अरब और कुवैत में भारतीय नागरिकों को अपने काम और वेतन से जुड़ी कई दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है और सऊदी अरब में ‘मामले ज्यादा खराब हैं.’

सुषमा ने कहा कि विदेश राज्य मंत्री एम.जे. अकबर कुवैत और सउदी अरब के अधिकारियों के सामने इस मुद्दे को उठाएंगे. विदेश मंत्री ने ट्वीट किया, ‘मेरे सहकर्मी वी.के. सिंह इन मामलों को सुलझाने के लिए सउदी अरब जाएंगे और एम.जे. अकबर कुवैत और सउदी अरब के अधिकारियों के सामने इस मुद्दे को उठाएंगे.’

उन्होंने कहा, ‘मैं आपको यकीन दिलाती हूं कि सउदी अरब में नौकरी गंवाने वाले किसी भारतीय को भूखा नहीं रहना पड़ेगा. मैं पूरे मामले की निगरानी हर घंटे कर रही हूं.’ सुषमा ने कहा कि सउदी अरब और कुवैत में बड़ी संख्या में भारतीयों ने अपनी नौकरियां गवाई हैं और उनके नियोक्ताओं ने उन्हें वेतन नहीं दिए हैं और अपने कारखाने बंद कर दिए हैं.

विदेश मंत्री ने कहा, ‘नतीजतन, सउदी अरब और कुवैत में हमारे भाइयों-बहनों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है.’ उन्होंने कहा कि कुवैत में तो चीजें ‘संभालने लायक हैं’, लेकिन सउदी अरब में मामला ‘बदतर’ है. बाद में सुषमा ने भारतीय कामगारों को मुहैया कराए गए भोजन की तस्वीरें ट्विटर पर डालीं.