अमेरिका : भारतीय मुस्लिम की दुकान में तोड़-फोड़, दीवार पर आपत्तिजनक बातें लिखीं

अमेरिका में घृणा अपराध का एक स्पष्ट मामला सामने आया है। ऑटो पार्ट्स की दुकान चलाने वाले 60 वर्षीय भारतीय मूल के मुस्लिम व्यक्ति की दुकान में तोड़-फोड़ की गई और दीवारों पर ‘भारतीय वापस अपने देश जाओ’ और ‘मैं तुमको मार दूंगा’ जैसी चीजें पेंट की गईं।

पेहरंप, नेवादा में डॉक्टर वकार ‘विक’ अहमद की दुकान की दीवारों पर चित्र बनाए गए। इस मामले को अब घृणा अपराध मानकर जांच की जा रही है। अहमद ने कहा कि उनको पहले भी ताने सुनाए जाते रहे हैं और उन पर भारतीय मूल के और मुस्लिम होने को लेकर भी हमले किए गए, लेकिन इस तरह का कभी कुछ नहीं किया गया।

न्ये काउंटी के शेरिफ के कार्यालय के मुताबिक पिछले रविवार को दुकान के सामने घृणास्पद भित्ति चित्र देखे गए। दीवार पर मालिक के धर्म को लेकर भी आपत्तिजनक पेंट किए गए थे। अब तक किसी संदिग्ध की पहचान नहीं हो पायी है, लेकिन उन पर दुर्भावनापूर्ण तरीके से संपत्ति को नुकसान पहुंचाने के आरोप लगाए जा सकते हैं।

केटीएनवी टीवी के अनुसार न्ये काउंटी की शेरिफ शेरोन वेहर्ली ने कहा, ‘मुझे यह सोचकर भी घृणा होती है कि न्ये काउंटी में इस तरह की चीजें हो रही हैं। इसे रोकने के लिए हम लोग वह सभी संभव चीजें करेंगे जो हम कर सकते हैं।’

तीस वर्ष से भी अधिक समय पहले अमेरिका गए भारतीय व्यक्ति अहमद ने कहा, ‘मैं सामान्य तौर पर इसको लेकर निराश हूं।’ अहमद ने कहा, ‘वे लोग मुझे इस तरह की बातें कहते हैं और इससे मेरे खून में उबाल आ जाता है, क्योंकि मैं उनमें से कुछ भी नहीं हूं।’

द काउंसिल ऑन अमेरिकन-इस्लामिक रिलेशन्स ने तोड़-फोड़ की निंदा की है और कहा कि मुस्लिम दुकान मालिक और उसके परिवार को एक माह से भी अधिक समय से निशाना बनाया जा रहा है।