मुख्यमंत्री हरीश रावत ने की चीनी घुसपैठ की पुष्टि, मामले पर गर्माने लगी राजनीति

उत्तराखंड से मुख्यमंत्री हरीश रावत ने भी चमोली से सटी चीन सीमा पर चीनी सैनिकों की घुसपैठ का मामले की पुष्टि कर दी है। उन्होंने कहा कि चीनी सैनिकों ने चमोली सीमा पर घुसपैठ की है। लेकिन अच्छी बात यह है कि वहां मौजूद महत्वपूर्ण नहर त‌क चीनी सेना नहीं पुहंच पाई है। रावत ने कहा, मुझे यकीन है कि केंद्र सरकार इस मुद्दे पर संज्ञान लेगी।

चमोली सीमा पर हो रहे चीनी घुसपैठ का पता तब चला जब सीमा क्षेत्र का निरीक्षण करने पहुंची ‌प्रशासन की टीम को चीनी सैनिकों को जांच करने से रोकते हुए वापस खदेड़ दिया।

इस मामले में अब राजनीति भी होने लगी है। एक तरफ सरकार का कहना है कि लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल तय नहीं है। भारत यह तय करना चाहता है, लेकिन चीन इस मामले में साथ नहीं देता।

उधर कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा, चीन उधर बात करता है, इधर घुसपैठ करता है। कम से कम एक बार प्रधानमंत्री को इस मामले में बोलना चाहिए। उन्होंने मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा, ऐसा दर्शाया गया कि चीन और पाकिस्तान के साथ देश के रिश्ते सुधर गए हैं। पर आज रह एक इनका दुश्मन बन रहा है।