हरिद्वार : मुख्यमंत्री हरीश रावत ने लिए बारिश से हुए नुकसान का जायजा

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री हरीश रावत ने हरिद्वार क्षेत्र में बारिश से हुए नुकसान का विभिन्न क्षेत्रों का निरीक्षण कर जायजा लिया। पथरी पावर हाउस, ज्वालापुर एवं चन्द्राचार्य चौक के भ्रमण के दौरान उन्होंने अधिकारियों को जल निकासी का उचित प्रबन्ध करने का निर्देश दिया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने स्थानीय लोगों से बातचीत कर विभिन्न क्षेत्रों बारिस से हुई क्षति के बारे में जानकारी ली।

वर्षा से प्रभावित क्षेत्रों का निरीक्षण करने के बाद मुख्यमंत्री ने होटल लक्ष्य में अधिकारियों से साथ प्रभावित क्षेत्रों की समस्याओं से निपटने के लिए बैठक ली। उन्होंने कहा कि बारिश से जिले में जिन-जिन क्षेत्रों में नुकसान हुआ है, उसकी वीडियोग्राफी की जाए। ताकि नुकसान का सही तरीके से आंकलन किया जा सके।

उन्होंने सभी इंजीनियरिंग डिपार्टमेंट, कृषि विभाग एवं उद्यान विभाग को बारिश से हुई कृषि, उद्यान आदि की भी वीडियोंग्राफी करने के निर्देश दिए। बारिश से फसल एवं पशु नुकसान का पूरी डिटेल रखने को कहा गया है। वाटर लॉगिंग वाले क्षेत्रों में जल निकासी का उचित प्रबन्ध करने के निर्देश भी मुख्यमंत्री ने दिए।

सीएम ने कहा कि पानी निकासी के लिए सिस्टम डेवलप किया जाए। रावत ने कहा कि गंगा के किनारे एवं सोलानी के किनारे बसे गांवों में सुरक्षा को दृष्टिगत रखते हुए सैक्टर एवं सब सैक्टर बनाने जाएं। मुख्यमंत्री ने कहा कि पीने के पानी की सभी जगह टेस्टिंग अवश्य करवाए। उन्होंने डेंगू से बचाव के लिए नगर निगम को लोगों को सतर्क करने एवं सभी व्यवस्थाओं को दुरस्त रखने को कहा।

स्वास्थ्य विभाग को दवाइयों की उचित व्यवस्था रखने के निर्देश दिए। सींचाई एवं लोक निर्माण विभाग को पुलों के निर्माण कार्य में तेजी लाने का निर्देश दिया। उन्होंने पुलों के निर्माण की धीमी गति के कारण रास्ता न खुलने पर नाराजगी जताई।

इससे पहले मुख्यमंत्री ने सी.सी.आर. परिसर में तमिल के महान संत और कवि तिरूवल्लुवर की प्रतिमा की स्थापना के लिए भूमि पूजन एवं शिलान्यास किया। उन्होंने कहा कि प्रयास किया जाएगा कि अगस्त के प्रथम सप्ताह में प्रतिमा का विधिवत अनावरण हो। मुख्यमंत्री ने कहा की मूर्ति स्थापना के लिए उपयुक्त स्थान के चयन के लिए तमिल समुदाय के लोगों से बात की गई एवं सबकी सलाह पर स्थान का चयन किया गया है। उन्होंने कहा कि संत तिरूवल्लुवर के नाम पर पार्क बनाया जाएगा।