जर्मनी : म्यूनिख में ‘अकेले’ ‘आतंकी’ ने 9 को मारा, बाद में खुदकुशी की

म्यूनिख।… जर्मनी के म्यूनिख शहर के एक व्यस्त मॉल में गोलीबारी करने वाले बंदूकधारी ने संभवत: अकेले ही इस हमले को अंजाम दिया और उसने नौ लोगों की जान लेने के बाद आत्महत्या कर ली। जर्मन पुलिस ने यह जानकारी दी है।

यूरोप में आम नागरिकों पर बमुश्किल एक सप्ताह में यह तीसरा हमला है। ओलंपिया (ओईजेड) मॉल में हुए इस हमले के कारण दुकानदार घबराहट में इधर-उधर भागने लगे। विशिष्ट पुलिस ने हमलावर का पता लगाने के लिए एक व्यापक अभियन शुरू किया। पुलिस शुरुआत में ऐसा समझ रही थी कि यह हमला तीन लोगों ने किया है।

पुलिस प्रमुख हुबर्ट्स एंड्रिया ने संवाददाताओं ने कहा, ‘अपराधी 18 वर्षीय जर्मन-ईरानी था, जो म्यूनिख का रहने वाला था।’ बंदूकधारी के पास दोहरी नागरिकता थी और उसका ‘कोई आपराधिक रिकॉर्ड नहीं था।’ उन्होंने कहा, ‘इस अपराध को अंजाम देने के पीछे की वजह के बारे में अभी कुछ पता नहीं चल पा रहा है।’

ताजा आधिकारिक आंकड़े के अनुसार शुक्रवार शाम शुरू हुई गोलीबारी में नौ लोगों की मौत हो गई है और 21 लोग घायल हो गए हैं। पुलिस ने ‘ट्विटर’ पर कहा, ‘हमें एक व्यक्ति मिला जिसने आत्महत्या कर ली। हमारा मानना है कि वह एकमात्र बंदूकधारी था।’

जर्मनी की डीपीए समाचार समिति ने कहा कि यह बयान म्यूनिख पुलिस के विस्फोटकों संबंधी विशेषज्ञों द्वारा एक मृत व्यक्ति के पास मिले पिट्ठू बैग की जांच किए जाने के बाद जारी किया गया। ऐसा समझा जा रहा है कि बंदूकधारी ने अकेले ही हमले को अंजाम दिया। डीपीए ने बताया कि व्यक्ति का शव उस मॉल से करीब एक किलोमीटर दूरी पर मिला जहां गोलीबारी की गई थी।

इससे पहले बावेरिया की राजधानी में एक पुलिस प्रवक्ता ने कहा, ‘हमें इसके आतंकवादी घटना होने का संदेह है’, लेकिन इस घटना का इस्लामवादियों से संबंध होने के बारे में तत्काल कोई संकेत नहीं मिले हैं।

सोशल मीडिया पर पोस्ट किए गए एक वीडियो में दिखाई दे रहा है कि काले रंग के कपड़े पहने एक बंदूकधारी मैक्डॉनल्ड्स के एक रेस्तरां से बाहर आते हुए लोगों पर अंधाधुंध गोलीबारी कर रहा है और लोग चिल्लाते हुए भाग रहे हैं।

जर्मनी अभी तक उस प्रकार के बड़े जिहादी हमलों से बचा हुआ था जैसे उसके पड़ोसी देश फ्रांस में देखे गए हैं।

म्यूनिख का मुख्य रेलवे स्टेशन खाली कराया गया है और शहर में मेट्रो एवं बस सेवा को कई घंटों के लिए निलंबित कर दिया गया। लोगों को अपने घरों में रहने की हिदायत दी गई है जिसके कारण सड़के मुख्य रूप से सुनसान रहीं।

म्यूनिख पुलिस ने बताया कि परिवहन सेवा शनिवार तड़के से फिर से बहाल हो गई है।