देहरादून : नशे का काला धंधा करते पकड़ा गया पीआरडी जवान

सांकेतिक फोटो

‘सईंया भए कोतवाल तो अब डर काहे का’ ये कहावत तो सुनी ही होगी। लेकिन कोतवाल ही अवैध धंधों में लग जाए तो फिल कानून व्यवस्था की क्या हालत होगी, सहज ही अंदाजा लगाया जा सकता है। जब वर्दी पहनने वाले ही अवैध धंधे करने लग जाएं, तो फिर आम आदमी से क्या अपेक्षा की जा सकती है।

कोतवाली पुलिस ने गुरुवार को एक पीआरडी जवान को 25.88 ग्राम स्मैक के साथ गिरफ्तार किया है। पकड़ा गया पीआरडी का जवान वर्दी की आड़ में स्मैक का काला कालोबार करता था। लेकिन गुरुवार को वह पुलिस के हत्थे चढ़ गया। मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने कार्रवाई करते हुए पीआरडी जवान को गिरफ्तार किया है।

सूचना मिली कि वर्दी पहने एक व्यक्ति भानियावाला निर्माणाधीन पुल के पास स्मैक की खेप लेकर आने वाला है। जिस पर पुलिस ने टीम गठित करते हुए मोर्चो संभाल लिया। कुछ देर बाद पुलिस जैसी वर्दी पहने एक व्यक्ति बाइक से बसंत ढाबे की तरफ से आया। पुलिस ने उसे रोकना चाहा तो वह भागने लगा। पुलिस ने पीछा करते हुए उसे धर दबोचा। पकड़े गए आरोपी का नाम सोनू विश्वकर्मा उर्फ ढाका पुत्र जगपाल निवासी प्रेमनगर, डोईवाला बताया गया है।

आरोपी के पास से UK07AZ8785 बाइक भी बरामद की गई है। पीआरडी जवान बिजनौर और बरेली से स्मैक लाकर डोईवाला और देहरादून में युवकों को बेचा करता था। वो पिछले काफी समय से इस धंधे में लिप्त था। पुलिस टीम में एसएसआई विक्रम रावत, एसआई लक्ष्मण कठैत, विपिन सैनी, नीरज कुमार आदि शामिल रहे।