बसपा प्रमुख मायावती पर कथित टिप्पणी के खिलाफ उत्तराखंड विधानसभा में निंदा प्रस्ताव पारित

बहुजन समाजपार्टी की मुखिया मायावती -फाइल फोटो

बसपा प्रमुख मायावती पर कथित टिप्पणी को लेकर देश भर में हो रही प्रतिक्रिया के बीच आज उत्तराखंड विधानसभा में भी उसके खिलाफ निंदा प्रस्ताव पारित किया गया।

विधानसभा के विशेष सत्र के दूसरे और अंतिम दिन मुख्यमंत्री हरीश रावत ने यह प्रस्ताव रखा जिसे विपक्षी भाजपा की गैर मौजूदगी में सदन में सर्वसम्मति से पारित कर दिया।

प्रस्ताव पेश करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि गत 20 जुलाई को एक वंचित और शोषित वर्ग के हितों के लिये संघर्ष करने वाली एक महिला के खिलाफ की गयी टिप्पणी गैर लोकतांत्रिक और तुच्छ मानसिकता का प्रतीक है जिसकी निंदा की जानी चाहिये।

उन्होंने कहा, ‘मैं इस संबंध में सदन से मांग करता हूं कि सर्वसम्मति से ऐसी टिप्पणी के खिलाफ निंदा प्रस्ताव पारित होना चाहिये।’ मुख्यमंत्री के इस प्रस्ताव का नवप्रभात और बसपा विधायक हरिदास ने समर्थन किया। बाद में इस प्रस्ताव को सर्वसम्मति से पारित कर दिया गया।