खेल प्रतिभाओं को निखारने में जुटा कुमाऊं विवि, अब यहां थाईलैंड का ‘सेपक टाकरा’ भी होगा

कुमाऊं विश्वविद्यालय न सिर्फ पढ़ाई में बल्कि खेल प्रतिभाओं को निखारने में भी जुटा है। अब विश्वविद्यालय में थाईलैंड का खेल सेपक टाकरा शुरू होने जा रहा है। नैनीताल में खेल समिति की वार्षिक बैठक में इस खेल को संस्तुति मिल गई है।

बुधवार को कुमाऊं विश्वविद्यालय के कुलपति एचएस धामी की अध्यक्षता में बैठक हुई। इस दौरान खेल प्रतिभाओं में सबसे आगे रहने वाले पिथौरागढ़ को कुलपति गोल्ड मेडल से सम्मानित किया गया।

इसके साथ ही ताईक्वांडो में राष्ट्रीय स्तर पर कांस्य पदक विजेता अल्मोडा की वन्दना सिंह को कुलपति गोल्ड मेडल के साथ 11 हजार रुपये बतौर पुरस्कार दिए गए। काशीपुर के सच्चे लाल को विश्वविध्यालय के सबसे तेज धावक के रूप में गोल्ड मेडल दिया गया है।

इस दौरान विश्वविद्यालय में होने वाले खेलों की रूप रेखा तैयार कर महाविद्यालयों को खेलों की कमान सौंप दी है।

कुलपति कुमाऊं विश्वविद्यालय ने कहा की खेलों को बढ़ावा देने के लिए विश्वविद्यालय निरंतर प्रयास कर रहा है। राष्ट्रीय स्तर पर पदक लाने वाले छात्रों को विश्वविध्यालय की तरफ से सम्मानित किया जाएगा।