बिहार के विकास पर लालू के ट्वीट को Like नहीं किया : पासवान

आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव (फाइल चित्र)

केंद्रीय खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्री रामविलास पासवान ने आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद के उस दावे को गलत बताया है, जिसमें उन्होंने कहा था कि एलजेपी सुप्रीमो ने बिहार के विकास से संबंधित उनके ट्वीट को ‘लाइक’ किया है।

लालू ने ट्वीट कर कहा था कि बिहार की विकास दर (15.6 प्रतिशत) बीजेपी शासित ‘विकसित’ प्रदेशों से अधिक है।

उन्होंने यह भी कहा था कि पासवान ने उनके ट्वीट को ‘लाइक’ किया है।

पासवान ने सोमवार को लालू के दावे को गलत और शरारतपूर्ण करतूत बताया।

उन्होंने जवाबी ट्वीट करके कहा कि मैं अखबारों के माध्यम से इस बारे में अवगत हुआ जो पूरी तरह से गलत और शरारतपूर्ण करतूत है।

उन्होंने कहा कि वह कभी भी लालू के ट्वीट को नहीं पढ़ते, क्योंकि आरजेडी प्रमुख बयान देने के मामले में गंभीर नहीं रहे हैं।

पासवान ने बिहार का विकास होने की बात को बेमानी करार देते हुए आरोप लगाया कि लालू प्रसाद, राबड़ी देवी और नीतीश कुमार के कार्यकाल के दौरान एक सूई तक का कारखाना भी नहीं लगा।

उन्होंने आरोप लगाया कि बिहार में कानून व्यवस्था बदतर है और जनता असुरक्षित है। उन्होंने कहा कि इसी वजह से उनकी पार्टी एलजेपी बिहार में राष्ट्रपति शासन लगाए जाने की मांग करती रही है।

पासवान ने बिहार में पूर्ण शराबबंदी के बाद पूरे देश में शराबबंदी की मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की मांग पर कटाक्ष करते हुए आरोप लगाया कि आज भी लोग बिहार में जहरीली शराब पीने से मर रहे हैं और नीतीश इस राज्य के बाहर यहां की पूर्ण शराबबंदी का ढिंढोरा पीट रहे हैं।

उन्होंने पूछा कि यदि पूरे देश में शराबंदी लागू करनी है तो नीतीश और लालू बताएं कि बिहार में शराब के कारखाने खोलने का लाइसेंस क्यों दिया जा रहा है।

उल्लेखनीय है कि लालू ने रविवार को ट्वीट कर पासवान का धन्यवाद करते हुए कहा था कि एलजेपी नेता ने बिहार के विकास से संबंधित उनके ट्वीट को पसंद किया है।

लालू ने पूर्व में अपने ट्वीट में बीजेपी का नाम लिए बिना उस पर निशाना साधते हुए कहा था कि तथाकथित विकसित राज्यों को बुरी तरह पछाड़ते हुए बिहार 15.6 प्रतिशत विकास दर के साथ देश का अव्वल राज्य है।