बारिश से पानी-पानी हुई धार्मिक नगरी हरिद्वार, हाल में बने हिल बाईपास का पुल धंसा

धार्मिक नगरी हरिद्वार में बारिश ने लोगों का जीना मुहाल कर दिया है। यहां बारिश से खूब तबाही मचाई है और प्रशासन के सारे वादों-दावों की पोल भी खोल दी है। हाल ही में करोड़ों की लागत से बना हिल बाई पास के पुल का एक किनारा हिस्सा धंस गया और सड़क पर काफी सारा पहाड़ का मलबा आ गया।

इससे हिल बाई पास मार्ग अवरूद्ध हो गया है। हाल ही में अर्धकुम्भ मेले के दौरान लगभग 65 करोड़ की लागत से बना पुल एक ही बरसात में धंस गया है, इसी बात से इस पुल की गुणवत्ता का अनुमान कोई भी लगा सकता है।

लोक निर्माण विभाग के सहायक अभियंता का कहना है बरसात के कारण ही यह मार्ग एक तरफ से बैठ गया है और जल्द ही इसको ठीक करके मार्ग को खोल दिया जाएगा।

दो दिन से हो रही मूसलाधार बरसात ने शहर के साथ ही राष्ट्रीय राजमार्ग को भी प्रभावित किया है। पतंजलि और बढ़ेड़ी गांव के पास भारी मात्रा में पानी आने के कारण राजमार्ग जलमग्न हो गया, जिसके बाद हाइवे को बंद कर ट्रैफिक डायवर्ट किया गया।

सभी वाहनों को कलियर से डायवर्ट किया गया है। भारी बरसात के साथ मंसा देवी पर्वत से आए मलबे ने हरिद्वार-देहरादून रेलवे ट्रैक को भी बाधित कर दिया है।

ट्रैक पर मलबा आने के कारण जो ट्रेन जिस स्टेशन पर थी वहीं रुक गई। करीब 7 घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद कहीं जाकर रविवार शाम तीन बजे ट्रैक से ट्रेन गुज़ारी गई।