लालकुआं विधानसभा को बनाएंगे आर्दश विधानसभा – श्रममंत्री दुर्गापाल

श्रममंत्री, हरीशचन्द्र दुर्गापाल ने अपनी विधानसभा के अन्तर्गत प्रगति विहार तथा नारायणपुरम में 1 करोड 90 की लागत से निर्मित नलकूपों का वैदिक मंत्रो के बीच लोकापर्ण किया। गौरतलब है कि प्रगति विहार में 95.46 लाख तथा नारायणपुरम में 95.38 लाख की लागत से इन नलकूपों का निर्माण किया गया है।

लोकार्पण समारोह में आयोजित जनसभा को सम्बोधित करते हुये उन्होने नलकूप स्थापना के लिए निशुल्क भुमिदाता मथुरादत्त भटट तथा गोविन्द बल्लभ पंत को सार्वजनिक तौर पर सम्मानित किया तथा नलकूप स्थापना के लिए भूमि दान देने पर उनका आभार व्यक्त करते हुये प्रशंसा की। उन्होने कहा कि वह लालकुआं विधानसभा को आर्दश विधानसभा के रूप में स्थापित करने के लिए प्रयत्नशील है। सडक, सम्पर्क मार्ग, स्वास्थ्य, शिक्षा के अलावा पेयजल उनकी प्राथमिकताओं मे है। श्री दुर्गापाल ने कहा कि विधानसभा क्षेत्र मे नलकूप की सम्भावनाओं को चिन्हित करने के बाद करोडो की लागत से नलकूप स्थापित किये गये है। ताकि कोई भी पेयजल से वंचित ना रहे।

अपनी विभागीय योजनाओं की जानकारी देते हुये उन्होने कहा कि सुक्ष्म, लद्यु एवं मध्यम उद्योगों मे 2938.88 करोड का पूंजी निवेश हुआ है। प्रदेश में 9891 ईकाइयो की स्थापना हुयी है। इनके माध्यम से 47494 लोगो को रोजगार उपलब्ध कराया गया है। उन्होने कहा कि राज्य में परम्परागत शिल्प के प्रोत्साहन हेतु गरूडांबाज अल्मोडा मे हरिप्रसाद पारम्परिक शिल्प उन्नयन संस्थान की स्थापना की गयी है। उन्होने बताया कि पिथौरागढ़ के मुनश्यारी तथा चमोली के भीमतल्ला मे मिनी वूलन टैक्सटाइल पार्क की स्थापना की जा रही है।

उन्होने बताया कि श्रम विभाग के माध्यम से 65 वर्ष की आयु पूरी होने पर प्रति मजदूर एक हजार रूपये पंेशन दिया जा रहा है। जिसके लिए 20 करोड का फंड स्थापित किया गया है। सेवायोजन विभाग द्वारा संचालित रोजगार सह कौशल विकास भत्ते के माध्यम 32236 बेरोजगारो को 51 करोड 88 लाख की धनराशि वितरित की जा चुकी है। उन्होने बताया किमहिलाओं को दुग्ध विकास से जोडते हुये महिलाओ के आर्थिक एवं सामाजिक विकास के लिए गंगा गाय योजना प्रदेशभर मे संचालित की जा रही है। पर्वतीय मैदानी क्षेत्र में दुग्ध उत्पादकांे को दूध बोनस मे वृद्वि की गयी है वही पशुपालकों के गहन प्रशिक्षण के लिए लालकुआं मे 1 करोड की लागत से प्रशिक्षण केन्द्र बनाया जा रहा है। उन्होने कहा कि विकास हमारी संस्कृति है और विकास के ध्वज को लेकर हम जनसहयोग से आगे बढ रहे है।

कार्यक्रम में ग्राम प्रधान रूकमणी नेगी, कैल़ाश राधा भटट, उमेश कबडवाल, कैलाश बमेठा, जीवन कबडवाल, ललित प्रसाद, देवी दत्त भटट, दया बमेठा, प्रकाश भटट, हरीश काण्डपाल, महेश बिष्ट, पूरन चन्द्र मिश्रा, भाष्कर भटट, उमेश फुलारा,रेवाधर भटट, रमेश जोशी, महेश जोशी के अलावा बडी संख्या में क्षेत्रवासी उपस्थित थे।