माहेश्वरी व तीन अन्य एथलीटों ने ओलंपिक के लिए किया क्वालीफाई, कुल 117 खिलाड़ी जाएंगे रियो

ट्रिपल जम्प के अनुभवी एथलीट रंजीत माहेश्वरी सहित ट्रैक एवं फील्ड के तीन अन्य एथलीटों ने चौथी इंडियन ग्रां प्री में सोमवार को नए राष्ट्रीय रिकॉर्ड के साथ रियो ओलंपिक में जगह बना ली। माहेश्वरी और धर्मवीर सिंह (200 मीटर) ने नए राष्ट्रीय रिकॉर्ड बनाए, जबकि जिनसन जानसन ने 800 मीटर में दूसरा सर्वश्रेष्ठ भारतीय समय निकाला और रियो के लिए क्वालीफाई किया।

हरियाणा के 27 वर्षीय एथलीट धर्मवीर ने 20.45 सेकेंड का समय निकालकर 20.50 सेकेंड के रियो क्वालीफिकेशन मार्क को पीछे छोड़ा। उन्होंने इसके साथ ही 20.66 सेकेंड के खुद के राष्ट्रीय रिकॉर्ड में सुधार किया जो उन्होंने पिछले साल चीन में एशियाई चैंपियनशिप में बनाया था। धर्मवीर 36 साल बाद ओलंपिक 200 मीटर में भाग लेने वाले पहले भारतीय एथलीट होंगे।

इस स्पर्धा में भाग लेने वाले आखिरी भारतीय तमिलनाडु के पेरूमल सुब्रहमण्यम थे, जिन्होंने 1980 के ओलंपिक खेलों में हिस्सा लिया था। चार गुणा 400 मीटर की पुरुष और महिला टीमों ने भी रियो खेलों में अपनी जगह सुनिश्चित की क्योंकि रविवार रात एम्सटर्डम में यूरोपीय चैंपियनशिप समाप्त होने के बाद वे 13वें स्थान पर बनी हुई हैं।

चोटी की 16 रिले टीमें रियो ओलंपिक के लिए क्वालीफाई करेंगी और एथलेटिक्स में रियो क्वालीफिकेशन की सोमवार को आखिरी समयसीमा है। अंतरराष्ट्रीय एथलेटिक्स संघ (आईएएएफ) के रियो ओलंपिक के लिए क्वालीफाई करने वाली रिले टीमों की सूची मंगलवार को जारी करने की संभावना है।

रियो के लिए सोमवार तीन और एथलीटों के क्वालीफाई करने से ट्रैक एवं फील्ड में भाग लेने वाले खिलाड़ियों की संख्या 36 पर जबकि कुल भारतीय खिलाड़ियों की संख्या 117 पर पहुंच गई है।

माहेश्वरी लगातार तीसरे ओलंपिक में हिस्सा लेंगे। वह पिछले साल से रियो के लिए क्वालीफाई करने की कोशिश में लगे हुए थे, लेकिन हर बार वह करीबी अंतर से चूक रहे थे। सोमवार को उन्होंने तीसरे दौर की कूद 16.93 मीटर लगाई और इस तरह से क्वालीफाई कर दिया।

इसके बाद उन्होंने 17.30 मीटर की लंबी कूद लगाकर फिर से राष्ट्रीय रिकॉर्ड अपने नाम किया। इससे वह अमेरिका के क्रिस्टियन टेलर (17.76 मीटर) और विली क्ले (17.65 मीटर) के बाद विश्व रैंकिंग में भी तीसरे स्थान पर पहुंच गए।

माहेश्वरी ने बाद में कहा, ‘मौसम अनुकूल था और पसंदीदा ट्रैक के कारण मुझे रियो के लिए क्वालीफाई करने में मदद मिली। हैदराबाद में पिछले महीने राष्ट्रीय अंतरराज्यीय प्रतियोगिता में मौसम अनुकूल नहीं था। मैंने थाईलैंड में क्वालीफाई करने की कोशिश की, लेकिन दो कूद में फाउल कर बैठा। यहां रनवे अच्छा था और इससे मुझे रियो जाने का अपना सपना पूरा करने में मदद मिली।’

केरल के जानसन ने पुरुषों की 800 मीटर दौड़ एक मिनट 45.98 सेकेंड में पूरी करके रियो के लिए क्वालीफाई किया। रियो के क्वालीफिकेशन मार्क एक मिनट 46 सेकेंड था। दस दिन पहले हैदराबाद में वह 0.43 सेकेंड से क्वालीफाई करने से चूक गए थे।

जानसन ने कहा, ‘मैं इस क्षण का इंतजार कर रहा था। मौसम और ट्रैक अच्छा था और इससे मुझे अपना लक्ष्य हासिल करने में मदद मिली।’ इस बीच महिलाओं की लंबी कूद में वी नीना ने 6.66 मीटर लंबी छलांग लगाई, लेकिन वह चार सेमी. के अंतर से ओलंपिक के लिए क्वालीफाई करने से चूक गईं।

एक अन्य एथलीट जिसने सोमवार को प्रभावशाली प्रदर्शन किया वह भाला फेंक के एथलीट देवेंदर सिंह थे, जिन्होंने 80.21 मीटर भाला फेंककर गोल्ड मेडल जीता। यह उनका सर्वश्रेष्ठ व्यक्तिगत प्रदर्शन भी है। महिलाओं के वर्ग में अनु रानी ने 59.20 मीटर भाला फेंककर गोल्ड मेडल जीता।