चमोली : पुलिस ने किया अंतरराज्यीय ATM ठगी गिरोह का भंडाफोड़, 5 गिरफ्तार

उत्तराखंड के पहाड़ी जिलों में लम्बे समय से ATM कार्ड बदलकर ठगी के मामले सामने आ रहे थे। इसी कड़ी में ATM ठगी से संबंधित एक मुकदमा थाना गोपेश्वर में मई माह में दर्ज किया गया था। इस मामले में उस समय पुलिस अधीक्षक चमोली प्रीति प्रियदर्शिनी ने क्षेत्राधिकारी चमोली व थानाध्यक्ष गोपेश्वर कविन्द्र शर्मा को इस तरह के संदिग्धों के प्रति सचेत रहते हुए प्रभावशाली आवश्यक कार्रवाई किए जाने के निर्देश दिए थे।

इसी क्रम में दिनांक 11 जुलाई को पोखरी बैंड पर रुटीन चैकिंग के दौरान एक स्विफ्ट कार (HR- 99XMTP-8970) में 5 संदिग्ध व्यक्ति पाए गए, जिनसे सख्ती से पूछताछ की गई तो उन्होंने खुद को हरियाणा का रहने वाला बताया। उनकी जांच की गई तो अलग-अलग बैंक शाखाओं के 35 ATM कार्ड व 25,000 से अधिक की नगदी मिली।

कड़ी पूछताछ करने पर उन्होंने स्वीकार किया कि उनका पेशा ही लोगों के ATM कार्ड बदलकर उनसे ठगी व धोखाधड़ी करना है। ठगों ने थाना गोपेश्वर में दर्ज मुकदमे में खुद की संलिप्तता होनी भी स्वीकार की। साथ ही इनके खिलाफ जिले के अन्य थानों में भी लाखों रुपयों की धोखाधड़ी के 4-5 मामले दर्ज हैं।

ठगों ने ऐसी घटनाओं को अन्य पहाड़ी जिलों में भी अंजाम दिए जाने की बात स्वीकार की है। उक्त गिरोह का पर्दाफाश करने व मामले के सफल निस्तारण के लिए पुलिस अधीक्षक द्वारा टीम को नकद 2500/- रुपये रिवार्ड दिए जाने की घोषणा की।

ये है ठगों के व्यक्तिगत जानकारी
1 – धर्मपाल पुत्र चन्द्र, उम्र 31 साल, निवासी ग्राम टिटाणा, तहसील इसराना, थाना सिमल का खिला, पानीपत हरियाणा।
2 – अनूप पुत्र श्री सुरेश कुमार, उम्र 25 साल, ग्राम शिसाई, थाना हौसी, जिला हिसार, हरियाणा
3 – धर्मेन्द्र पुत्र कर्मवीर, उम्र 26 साल, निवासी खेड़ी जालब, थाना मानोद, जिला हिसार हरियाणा
4 – जिले सिंह पुत्र शीशपाल, उम्र 35 साल, निवासी खेड़ी, थाना मानोद, जिला हिसार, हरियाणा
5 – ओमपाल पुत्र श्री प्रीतम सिंह, उम्र 23 साल, निवासी ग्राम केलंगा, थाना व जिला भिवानी, हरियाणा

पुलिस टीम में ये लोग थे शामिल
थानाध्यक्ष कविन्द्र शर्मा, उपनिरीक्षक प्रदीप राठौड़, मुख्य कॉन्सटेबल भूपेन्द्र सिंह, कॉन्सटेबल रजनीश, कॉन्सटेबल अमित सैनी, कॉन्सटेबल अरविंद सिंह, कॉन्सटेबल राहुलमणि, SOG कॉन्सटेबल अनिल, SOG कॉन्सटेबल महिपाल, SOG कॉन्सटेबल किरण कुमार।