उत्तराखंड प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष किशोर उपाध्याय दो दिवसीय दौरे पर ऋषिकेश में हैं। यहां रविवार शाम वह गंगा आरती में शामिल हुए। रविवार सुबह युवाओं को नशा मुक्ति अभियान से जोड़ने के लिए मैराथन दौड़ में शामिल हुए और दिन में युवा कांग्रेस के ‘हम में है राजीव’ कार्यक्रम में शामिल होकर युवाओं में जोश भरा।

इन सबके साथ ही किशोर ने हाल में ही केन्द्रीय राज्य मंत्री बने अजय टम्टा की तुलना पव्वे से की है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने कैबनेट विस्तार में उत्तराखंड को एक मंत्री पद दिए जाने पर प्रतिक्रिया देते हुए एक विचित्र बयान दे डाला। किशोर का कहना है कि पीएम नरेंद्र मोदी ने उत्तराखंड को एक पव्वा दे दिया है। उत्तराखंड में अद्धे पव्वे की बात हो रही है।

राज्य मंत्री कोई मंत्री नहीं होता, अगर स्वतंत्र प्रभार भी होता तो भी कुछ बात होती और राज्य मंत्री भी कपड़ा मंत्रालय में, मोदी सरकार ने उत्तराखंड के साथ ही नहीं बल्कि अजय टम्टा के साथ भी मजाक किया है और राज्य मंत्री बनाना अजय टम्टा का अपमान है।

लगता है प्रदेश प्रभारी अबिंका सोनी की क्लास ने काम कर दिया है। अपनी किशोरवाणी से हरीश रावत सरकार को सकते में डालने वाले किशोर उपाध्याय के सुर अब बदलने लगे हैं। एक ओर जहां वह मुख्यमंत्री की प्रशंसा कर रहे हैं, वहीं दूसरी ओर किशोर ने अब अपनी ही किशोरवाणी का ठिकरा बीजेपी के सिर फोड़ दिया है।

किशोर उपाध्याय का कहना है ये सब बीजेपी का षड़यत्र है और बीजेपी उत्तराखंड में पैर नहीं जमा पा रही है। इसलिए वह कह रही है कि सरकार और संगठन के बीच मतभेद है।